जम्मू-कश्मीर: केंद्र सुरक्षा प्रदान करने में असफल, शोपियां में कश्मीरी पंडितों की हत्याओं पर ओवैसी का हमला

ओवैसी ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर में बीजेपी ने एलजी को नियुक्त किया और वहां की केंद्र सरकार नाकाम साबित हुई है। धारा 370 को हटाने से कोई मदद नहीं मिली है। जम्मू-कश्मीर में किसी कश्मीरी पंडित पर पहला हमला नहीं, वे (केंद्र) सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहे हैं। कश्मीरी पंडित अब कश्मीर छोड़ना चाहते हैं।'

हैदराबाद: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को घाटी में कश्मीरी पंडितों की हत्याओं की निंदा की और कहा कि केंद्र सरकार समुदाय को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है।

 

और पढ़िए – BJP ने राज्यपाल से की शिकायत, कहा- ‘खेला होबे दिवस’ पर भाजपा वर्कर्स को बनाया जाएगा निशाना

 

ओवैसी ने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर में बीजेपी ने एलजी को नियुक्त किया और वहां की केंद्र सरकार नाकाम साबित हुई है। धारा 370 को हटाने से कोई मदद नहीं मिली है। जम्मू-कश्मीर में किसी कश्मीरी पंडित पर पहला हमला नहीं, वे (केंद्र) सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहे हैं। कश्मीरी पंडित अब कश्मीर छोड़ना चाहते हैं।’

उन्होंने आगे जोर देकर कहा कि यह घटना मोदी सरकार की विफलता का एक और उदाहरण है। उन्होंने कहा, ‘यह मोदी सरकार की विफलता का एक और उदाहरण है। जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडितों के जीवन की रक्षा करने में विफलता की जिम्मेदारी भाजपा और उसकी सरकार पर है।’

 

और पढ़िए – जम्मू-कश्मीर: केंद्र सुरक्षा प्रदान करने में असफल, शोपियां में कश्मीरी पंडितों की हत्याओं पर ओवैसी का हमला

 

उनकी टिप्पणी जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में एक सेब के बाग में एक कश्मीरी पंडित की गोली मारकर हत्या और उनके भाई के घायल होने के बाद आई है। घटना छोटीपोरा इलाके की है।

मृतक की पहचान सुनील कुमार भट के रूप में हुई है। उनके भाई पिंटू को चोटें आई हैं। घटना के बाद इलाके में सुरक्षा बल के जवानों को तैनात कर दिया गया है।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version