पाकिस्तान को फिर से सबक सिखाने का समय, बालाकोट-2 के लिए तैयार भारतीय वायु सेना!

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के मुखिया एयरचीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया के बयान से पाकिस्तान में एक बार फिर खलबली मची हुई है। एयरचीफ मार्शल भदौरिया ने कहा कि इंडियन एयरफोर्स बालाकोट दोहराने के लिए चौबीस घंटे तैयार है। उन्होंने कहा कि जब-जब भारत पर आतंकी हमला होगा तब-तब पाकिस्तान को बालाकोट जैसा डर सताता रहेगा। हम तैयार हैं हमें जिस समय हुक्म मिलेगा हम पाकिस्तान के भीतर घुसकर आतंकियों के अड्डों को तहस-नहस कर देंगे। दरअसल, हंदवाड़ा मुठभेड़ के बाद से ही पाकिस्तान को डर सता रहा है कि भारत एयर स्ट्राइक कर सकता है।

इसी साल मई महीने की शुरुआत में हंदवाड़ा एनकाउंटर हुआ था जिसमें भारत ने अपने पांच जवान खोए। इस मुठभेड़ के बाद से ही पाकिस्‍तान को डर है कि भारत जवाबी कार्रवाई कर सकता है। एयरफोर्स चीफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने कहा है कि पाकिस्‍तान को डर भी होना चाहिए और टेंशन होनी भी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि भारतीय वायुसेना चौबीसों घंटे तैयार है। एयरफोर्स चीफ ने मीडिया से बातचीत में कहा, “जब भी हमारी धरती पर कोई आतंकी हमला होता है, उन्‍हें (पाकिस्‍तान) चिंता होनी चाहिए। उन्‍हें अगर इस टेंशन से मुक्ति पानी है तो भारत में आतंक फैलाना बंद करना होगा।” क्‍या भारत फिर से गुलाम कश्मीर (पीओके) में एयर स्‍ट्राइक करने को तैयार है? इस सवाल पर भदौरिया ने कहा कि “अगर हालात की यही डिमांड होती है तो बिलकुल, इंडियन एयरफोर्स चौबीस घण्टे तैयार है।”

भारत दो-टूक लहजे में पाकिस्‍तान को समझा जा चुका है कि वह कश्‍मीर में अपनी हरकतों से बाज आए। गिलगित-बाल्टिस्‍तान, मीरपुर और मुजफ्फराबाद समेत पूरा कश्‍मीर भारत का है। भारतीय मौसम विभाग अब अपने बुलेटिन में गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद के मौसम का हाल भी बताता है। वहीं डीडी न्यूज, आकाशवाणी पर प्रसारित होने वाले प्राइम टाइम न्‍यूज बुलेटिन्‍स में भी भारत के इन इलाकों का अपडेट मिलने लगा है।

सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे भी पाकिस्‍तान समर्थित आतंकवाद की पोल खोल चुके हैं। उन्‍होंने कहा था कि खुफिया रिपोर्ट बताती है कि एलओसी के सभी लॉन्च पैड सक्रिय हैं। जनरल नरवणे के मुताबिक, घुसपैठ के प्रयास उन क्षेत्रों में होते हैं, जहां बर्फ का स्तर बहुत अधिक है। उन्होंने कहा, हम पाकिस्तान के साथ इस क्षेत्र में शांति बनाए रखने का अपना दायित्व निभा रहे हैं। जब तक पाकिस्तान केंद्र प्रायोजित आतंकवाद की अपनी नीति को नहीं छोड़ता, हम उसका सटीकता के साथ जवाब देना जारी रखेंगे।

Share