लॉकडाउन-4 में केजरीवाल का दिल्‍लीवालों को बड़ा तोहफा!

नई दिल्‍ली:

देश में 50 दिन से ज्‍यादा समय से लॉकडाउन लगा हुआ है, लेकिन कोरोना की रफ्तार धीमी होने का नाम नहीं ले रही है। मजूदरों के साथ-साथ दुकानदारों पर भी कोरोना का कहर ऐसा बरसा है कि उनकी आर्थिक स्‍थिति खराब हो गई है। ऐसे ही लोगों को राहत देने के लिए दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के कुछ इलाकों में छूट के साथ दुकान खोलने का निर्देश जारी किया है।

केजरीवाल ने लॉकडाउाउन-4 में कुछ शर्तो के साथ दिल्‍ली के लोगों को शापिंग करने की छूट दी है। इसी कड़ी में ऑड-ईवन के आधार पर दिल्‍ली में बाजार खुलेंगे। हालांकि प्रशासन को डर है कि बाजार खुलने से सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियम का पालन नहीं कराया जा सकता। क्‍योंकि दिल्‍ली के 11 सभी जिले कोरोना की चपेट में हैं और सभी को रेड जोन घोषित किया हुआ है।

बनाए गए ये नियम

मिली जानकारी के अनुसार, दिल्‍ली सरकार ने पहले चरण में सरोजिनी नगर, खान मार्केट और कनॉट प्लेस की दुकानें खोलने का निणर्य किया है। लेकिन इसके लिए भी कुछ शर्त रखी गई हैं। सरकार के नियमों के हिसाब से ऑड-ईवन के आधार पर दुकानें खुलेंगी। इसके लिए दुकानदारों को सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन का पालन करना होगा, अगर ऐसा नहीं किया गया तो उनपर कार्रवाई होगी।

हालांकि  भीड़ की आशंका को देखते हुए चांदनी चौक और सदर बाजार को खोलने की इजाजत नहीं दी। प्रशासन को आशंका है कि इन इलाकों में रियायत देने पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना मुश्किल है

देशभर में खुलीं 4.5 करोड़ दुकानें

लॉकडाउन 4 में मिली छूट के बाद देशभर में 4.5 करोड़ दुकानें खुलीं। दिल्ली में 5 लाख दुकानें 55 दिनों बाद खोली गई। दुकानों पर साफ सफाई और सेनिटाइजेशन का काम शुरु। कोरोना के खौफ के वजह से दुकानों में ना के बराबर ग्राहक। दुकानों में कर्मचारियों की बेहद कमी।

ट्रेडर्स एसोसिएशन के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान  पलायन कर गए कर्मचारी। दिल्ली में काम करने वाले लगभग 70 प्रतिशत से ज्यादा कर्मचारी अपने गांव चले गए और बाज़ारों में काम करने वाले ठेले वाले, मजदूर और दिहाड़ी मजदूर भी लगभग नदारद हैं।

बता दें कि देश में कोरोना के मामले एक लाख के पार हो गया है। बीते तीन दिन में सबसे ज्यादा 15 हज़ार केस बढ़े है। अबतक देश में कोरोना के कारण 3163 लोगों की मौत हुई है। जबकि पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 4 हजार 970 मामले सामने आए हैं और 134 लोगों की मौत हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब संक्रमित मरीज 1 लाख 1139 हो गई है। वहीं 39 हजार से ज्यादा ठीक होकर घर लौट गए हैं। महाराष्ट्र में 35 हजार से ज्यादा मरीज हैं, जबकि गुजरात और तमिलनाडु के अलावा दिल्ली में भी मरीजों का आंकड़ा 10 हजार से ज्यादा है।

Share