Tuesday, June 2, 2020

राहुल गांधी ने यूट्यूब पर जारी किया VIDEO, देखिए- बेबस मजदूरों की कहानी, उन्हीं की जुबानी

लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की घर वापसी को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो साझा की है। इस वीडियो में प्रवासी मजदूरों के दर्द की कहानी उन्हीं की जुबानी सुनी जा सकती है। यह वीडियो 16 मई की है, जब सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास राहुल गांधी ने मजदूरों से मुलाकात कर उनसे बातचीत की थी।

रमन झा, नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) यानी कोविड 19 (Covid 19) के संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए देश में 24 मार्च से जारी लॉकडाउन (Lockdown) का आज 60वां दिन है। वहीं कुछ रियायतों के साथ देश में जारी लॉकडाउन- 4 का आज छठा दिन है। इस लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा मुश्किलों का सामना प्रवासी मजदूरों को करना पड़ा है। तमाम कोशिशों पर दावों के बावजूद प्रवासी मजदूरों की घर वापसी केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकारों के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। लॉकडाउन के चलते आज भी बड़ी संख्या में मजदूर पैदल ही अपने-अपने राज्यों की ओर लौटने को मजबूर हैं।

इन सबके बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो साझा की है। इस वीडियो में प्रवासी मजदूरों के दर्द की कहानी उन्हीं की जुबानी सुनी जा सकती है। यह वीडियो 16 मई की है, जब सुखदेव विहार फ्लाईओवर के पास राहुल गांधी ने मजदूरों से मुलाकात कर उनसे बातचीत की थी। 16 मिनट के इस वीडियो की शुरुआत प्रवासी मजदूरों के पलायन के दर्द को दिखाने वाले दृश्यों से किया गया है। राहुल की आवाज में इस डॉक्युमेंट्री में मजदूरों की मुश्किलों को बयां किया गया है।

इस वीडियो में झांसी के रहने वाले महेश कुमार कहते हैं, 120 किलो मीटर चले हैं। रात में रुकते रुकते आगे बढ़े। मजबूरी है कि हमलोगों को पैदल जाना है। एक अन्य महिला कहती हैं, बड़े आदमी को दिक्कत नहीं है। हम तीन दिन से भूखे मर रहे हैं। बच्चा भी है हमारा साथ में, वो भी तीन दिन से भूखा-प्यासा है। एक अन्य महिला कहती हैं कि जो भी कमाया था पिछले दो महीनों में खत्म हो गया है। इसलिए अब पैदल ही घर निकल पड़े हैं। राहुल गांधी एक मजदूर से बात करते हैं। वो पूछते हैं कि वो कहां से आ रहे हैं और क्या करते थे।

बातचीत के दौरान एक शख्स बताता है कि वह हरियाणा से आ रहा है और कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करता था। शख्स बताता है कि एक दिन पहले ही उसने चलना शुरू किया है। उनके साथ उनका पूरा परिवार है। शख्स ने बताया कि उसे एकाएक ही लॉकडाउन की जानकारी मिली। जहां रहते थे वहां किराए के नाम पर 2500 रुपये देने पड़ते थे। इसलिए अह वो झांसी रवाना हो रहे हैं।

राहुल गांधी ने पूछा है कि पैसे हैं पास में, खाना खा रहे हो? इस सवाल के जवाब में परिवार ने बताया कि लोग रास्ते में उन्हें खाने के लिए दे देते हैं। कई बार खाना मिलता भी है कई बार नहीं मिलता तो पैदल चलते हुए आगे बढ़ जाते हैं।

इस वीडियो में मजदूरों पर उनके घर लौटने के दौरान हुई ज्यादितियों का भी जिक्र है। राहुल ने इस वीडियो में मजदूरों के भविष्य के बारे में सवाल उठाए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

महाराष्ट्र और गुजरात पर बढ़ा चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ का खतरा, NDRF की कई टीमें तैनात

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच देश पर एक नया खतरा मंडरा रहा है। बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान अम्फान की तबाही के...

क्या भारत के नाम से हट जाएगा ‘इंडिया’? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

प्रभाकर मिश्रा, नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट आज उस याचिका पर सुनवाई करेगा जिसमें मांग की गई है कि संविधान संसोधन करके इंडिया शब्द हटा...

Aaj ka Rashifal 2 June 2020:  इन राशि वालों को आज रहना होगा सावधान वरना बिगड़ सकते हैं काम, जानें अपना राशिफल

Aaj ka Rashifal 2 June 2020: आज दिनांक 2 जून 2020 और दिन मंगलवार (Mangalwar ka Rashifal) है। आज का दिन सभी 12 राशियों...

‘CHAMPIONS’ से मजबूत होंगे छोटे उद्योग, रोजगार की लग जायेगी झड़ी!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में 20 लाख करोड़ के पैकेज और लोकल के लिए वोकल अभियान...