Wednesday, July 8, 2020

दिल्‍ली में कोरोना के मामले जरूर बढ़े, लेकिन राहत देती है ये रिपोर्ट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शहर में कोरोनो वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है। केजरीवाल ने कहा कि कोरोना मरीजों के लिए सरकार के पास लगभग 4,000 बेड हैं, इनमें से केवल 1,500 पर फिलहाल मरीज हैं।

नई दिल्‍ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शहर में कोरोनो वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है। केजरीवाल ने कहा कि कोरोना मरीजों के लिए सरकार के पास लगभग 4,000 बेड हैं, इनमें से केवल 1,500 पर फिलहाल मरीज हैं।

केजरीवाल ने कहा, “निजी अस्पतालों में, 677 बिस्तर उपलब्ध हैं, जिनमें से 509 पर मरीज हैं। निजी अस्पतालों में सोमवार से लगभग 2,000 कोरोना समर्पित बेड बनाया जा रहा है।” उन्‍होंने कहा, “लॉकडाउन में ढील के कारण दिल्ली में कोविड-19 मामले बढ़े हैं, लेकिन चिंता की तब तक कोई बात नहीं है, जब तक कि मृत्यु दर या गंभीर मामलों की संख्या में तेजी से वृद्धि नहीं होती है। अगर लोग वायरस के संपर्क में आते हैं और ठीक हो जाते हैं, तो फिर चिंता की कोई बात नहीं है।”

इस बात का भरोसा दिलाते हुए कि आने वाले दिनों में और अधिक बेड होंगे। उन्होंने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद मामलों में वृद्धि की उम्मीद थी। हालांकि, मैं कह सकता हूं कि स्थिति नियंत्रण में है। लगभग 6,500 लोग वायरस से संक्रमित हैं और इतनी ही संख्या में अब तक ठीक हुए हैं।” केजरीवाल ने यह भी कहा कि सरकार के पास 250 वेंटिलेटर हैं और केवल 11 का इस्तेमाल किया जा रहा है।

इसके अलावा, उन्होंने कहा कि कोई भी अस्पताल मरीजों को अपने लिए व्यवस्था करने के लिए नहीं कह सकता है और न ही उन्हें जाने के लिए कह सकता है। हमने एक निजी अस्पताल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है, जिसने एक कोरोना संक्रमित मरीज का इलाज करने से मना कर दिया था। यह अस्पताल का कर्तव्य है कि ऐसी स्थिति में मरीजों को एम्बुलेंस प्रदान करें और उन्हें कोविड अस्पताल में ले जाएं। मरीजों को खुद के लिए व्यवस्था करने के लिए नहीं कहा जा सकता है।

17 मई को, मुख्यमंत्री ने कहा था कि 9,755 मामले हैं और अब लगभग 3,500 रोगियों में वृद्धि हुई है। इसके अलावा, 2,500 मरीज इसी अवधि में ठीक हुए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अधिकांश नए मामलों में कोरोना के हल्के या कोई लक्षण नहीं हैं। उन्होंने कहा, “कम से कम 3,424 मरीजों का इलाज उनके घर पर किया जा रहा है, क्योंकि उनके कोई लक्षण नहीं हैं या हल्के लक्षण हैं।” दिल्ली में रविवार को कोरोना मामलों की संख्या 13,418 तक पहुंच गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कोरोना के बाद इंडिया से बाहर इंडिया का अद्भुत कारनामा, चीन और पाकिस्तान कर रहे स्यापा

नई दिल्ली। यूरोपियन यूनियन हो या फिर यूनाईटेड नेशंस हर तरफ भारत का बोलवाला है। अमेरिका, ब्रिटेन हो फिर रूस हर कोई भारत से...

नेपाल में उठा सियासी तूफान, चालबाज चीन ने राष्ट्रपति भवन को भी जाल में फंसाया

नई दिल्ली। चालबाज चीन ने नेपाल के राष्ट्रपति भवन को भी अपने जाल में फंसा लिया है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग चाहते हैं...

सपना चौधरी ने इस गाने पर डांस से जीता फैंस का दिल, पागल हो गए लोग, देखें वीडियो

नई दिल्लीः हरियाणवी सिंगर (Haryanvi Dancer) और डांसर सपना चौधरी (Sapna Chaudhary) की पहचान किसी बॉलीवुड सिलेब्स से कम नहीं है। वो जब मंच...

लॉकडाउन में बुक कराए गये टिकटों का रिफंड नहीं दे रहीं एयरलाइंस, सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

नई दिल्ली। कोरोना लॉकडाउन के दौरान बुक किए गये हवाई टिकटों की वापसी में एयर लाइन हीलाहवाली कर रही हैं। यात्रियों पर जबरन क्रेडिट...