Saturday, June 6, 2020

Corona Alert: देश के हर कोने पर गृह मंत्रालय की नजर, 24 घंटे ऐक्टिव है कंट्रोल रूम

कोरोना के खतरे से निपटने के लिए जिस तरह से सरकार का स्वास्थय मंत्रालय ऐक्शन में है उसी तरह से केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पूरी तरह से कमर कसली है। केंद्र शाशित प्रदेशों से लेकर सभी राज्यों पर केंद्रीय गृह मंत्रालय की सीधी नजर है। हर तरह की मदद देने के लिए एक टास्क फोर्स बना दी गई है। इस टास्क फोर्स में गृह मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी रैंक के अधिकारी शामिल हैं।

प्रशांत देव, नई दिल्ली। कोरोना के खतरे से निपटने के लिए अगर लॉक डाउन जरूरी है तो उसे सफल बनाने के लिए लोगों की परेशानयों को दूर करना भी जरूरी है। जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी ने 21 दिन का संपूर्ण लॉक डाउन पूरे देश में घोषित किया, लोग सड़कों पर सामान जमा करने के लिए निकलने लगे। सड़कों पर भीड़ जमा होने लगी । लोग परेशान होने लगे कि लॉक डाउन में रोज का सामान कैसे मिलेगा, जीवन कैसे चलेगा चिंता लोगों को सताने लगी जो स्वाभाविक भी थी। ऐसे में लोग परेशान न हो, लोगों को जरूरत का सामान मिलता रहे , और सड़कों पर भीड़ न हो किसी भी तरह की अफरा तफरी न हो , केंद्रीय गृहमंत्रालय ऐक्शन में आ गया। एक के बाद हर वो गाइडलाइन तत्काल जारी की गई जिससे रोज्यों में कोई समस्या न हो। कहीं से भी जरूरी सामानों की सप्सलाई चेन ब्रेक न हो । क्योंकि कोरोना वाइरस के चेन को हर हाल मं ब्रेक करना है ,हर हाल में लॉक डाउन को कामयाब बनाना है।

कोरोना के खतरे से निपटने के लिए जिस तरह से सरकार का स्वास्थय मंत्रालय ऐक्शन में है उसी तरह से केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पूरी तरह से कमर कसली है। केंद्र शाशित प्रदेशों से लेकर सभी राज्यों पर केंद्रीय गृह मंत्रालय की सीधी नजर है। हर तरह की मदद देने के लिए एक टास्क फोर्स बना दी गई है। इस टास्क फोर्स में गृह मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी रैंक के अधिकारी शामिल हैं।

गृह मंत्रालय में आंतरिक सुरक्षा विभाग की संयुक्त सचिव, पुन्य सलेला श्रीवास्तव ने बताया कि कंट्रोल रूम चौबीस घंटे काम पर है और सभी अधिकारी भी। देश के किसी भी राज्य में आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई में कहीं कोई दिक्कत न आए इसके लिए हम सभी राज्यों से लगातार कार्डिनेट कर रहे हैं। ये टास्क फोर्स ऐसे काम करती है कि देश के सभी राज्यों से फीड बैक लेना और उस पर ऐक्शन करना। उनकी मदद करना। इस 24 घंटे चलने वाले कंट्रोल रूम को दोनों केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी और नित्यानद राय मंत्रालय में में जा कर खुद मानिटर भी कर रहे हैं। दरअसल केंद्रिय गृह मंत्रालय का कंट्रोलरूम बेहद हाइटेक है। यहां से बैठ कर देश के किसी भी कोने में विडियो काफ्रेंसिंग के जरिए बात की जा सकती है। और लॉक डाउन में यहां से लगातार मंत्रालय के अधिकारी पूरे देश के अधिकारियों से 24 घंटे संपर्क में हैं। दरअसल स्वास्थ्य सेवाओं से लेकर आवश्यक सेवाए या फिर कोई इमरजेंसी में केंद्र सरकार की जो मदद राज्यों को चाहिए उसके लिए बिना देर किए फौरन फैसले लिए जा सकें । और अगर इसके लिए कोई आदेश जारी करने हो तो वो तुरंत जारी कर दे जाए। और राज्यों को फौरन मदद मिल सके। जानकारी के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस बात के निर्देश अपने मंत्रियों और अधिकारियों के दे दिए हैं कि लॉक डाउन में आने वाली किसी भी दिक्ककत परेशानी को तुरंत दूर किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चीन की बर्बादी का प्लान तैयार, अमेरिका के साथ आए 8 देशों ने एक साथ खोला मोर्चा

नई दिल्ली। भारत की दुनिया में बढ़ रही ताकत के आगे अब बीजिंग भी झुकने पर मजबूर है। इस बात को अगर इस तरह...

25 स्‍कूलों में एकसाथ पढ़ाकर 1 करोड़ सैलरी लेने वाली फर्जी शिक्षिका अनामिका शुक्ला गिरफ्तार

मानस श्रीवात्‍सव, लखनऊ: यूपी की कासगंज पुलिस ने एक फ़र्ज़ी शिक्षिका को उस समय गिरफ्तार कर लिया, जब वह अपने साथी के साथ बीएसए...

Psy Ops: भारत के खिलाफ चाणक्‍य की यह नीति अपना रहा है चीन

नई दिल्‍ली: लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर एक बार फिर तनाव बढ़ा हुआ है। दोनों ही देशों के...

भारत ने पकड़ी चीन की चोरी! मीटिंग में ले.जन. हरिंदर से आंखे नहीं मिला सका चीनी जनरल

नई दिल्ली। आसमानी आंखों ने एक बार फिर चीन की चोरी पकड़ ली है। भारत ने चीन की चोरी के ये सुबूत कमाण्डर लेवल...