Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस का आज से भारत जोड़ो यात्रा, 5 महीने में 3570 किमी दूरी करेगी तय

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा आज से शुरू होने जा रही है। राहुल गांधी आज कन्याकुमारी से इसे शुरू करेंगे। यह यत्रा 150 दिनों में यात्रा कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3500 किमी का रास्ता तय करेंगी।

Bharat Jodo Yatra: आज से कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा शुरू हो रही है। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस के तमाम बड़े नेता केंद्र सराकार को घेरने के लिए महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दों को देश की जनता के सामने रखे की कोशिश करेंगे।150 दिनों में यह यात्रा कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3500 किमी का रास्ता तय करेंगे। इस दौरान पदयात्री 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेंगे।

अभी पढ़ें Corona Update: कोरोना के फिर बढ़े केस, 24 घंटे में कोरोना आए 5379 नए मामले, 27 की मौत

इस यात्रा की शुरुआत तमिलनाडु के कन्याकुमारी से होगी जो जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर तक जाएगी है। यात्रा की शुरुआत के लिए कन्याकुमारी में समेत अन्य जगहों पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। इस यात्रा को हरी झंडी दिखाने के से पहले कांग्रेस के पूर्व राहुल गांधी कन्याकुमारी में विवेकानंद रॉक मेमोरियल, तिरुवल्लुवर स्टैच्यू और कामराज मेमोरियल भी जाएंगे।

भारत जोड़ो यात्रा शुरू करने से पहले राहुल गांधी श्रीपेरंबदूर में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की समाधि पर प्रार्थना सभा में हिस्सा लेंगे। इसके बाद वह कन्याकुमारी में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे जहां तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मौजूद रहेंगे। यहां राहुल को खादी का राष्ट्रीय ध्वज सौंपा जाएगा। इस यात्रा में कांग्रेस का झंडा नहीं दिखेगा। इसके बजाए तिरंगा दिखेगा।

कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा के मुताबिक इस यात्रा के माध्यम से कांग्रेस सामाजिक कार्यकर्ताओं, बुद्धिजीवियों, अन्य राजनीतिक दलों और लाखों आम लोगों से संपर्क करेगी और देश की गंभीर चुनौतियों से निपटने के तरीकों पर संवाद शुरू करेगी।

- विज्ञापन -

अभी पढ़ें Income Tax Raid: टैक्स चोरी पर आयकर विभाग का ताबड़तोड़ एक्शन, देश के 100 ठिकानों में रेड

कांग्रेस नेता कहा कि साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी भारतीयों को समृद्धि का सपना दिखाया था। इसके विपरीत उन्होंने पिछले आठ सालों में महंगाई, बेरोजगारी, सामाजिक तनाव और ध्वस्त होती संस्थाओं का एक भयानक अनुभव दिया है। उन्होंने कहा कि यात्रा तीन प्रमुख समस्याओं आर्थिक असमानताएं, सामाजिक भेदभाव और राजनीतिक तौर पर जरूरत से अधिक केंद्रीकरण हैं।

अभी पढ़ें   देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version