Trendinglok sabha election 2024IPL 2024News24PrimeMahashivratri 2024WPL 2024

---विज्ञापन---

Mahadev App: महादेव ऐप मामले में छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल को बड़ी राहत! बयान से मुकरा आरोपी

Mahadev app case Update News: सीएम भूपेश बघेल ने आरोपों को गलत बताया था और कहा था कि ईडी और बीजेपी मिलकर उनके खिलाफ साजिश कर रही हैं।

Edited By : Shubham Singh | Updated: Nov 25, 2023 13:18
Share :
फाइल फोटो (ANI)

Mahadev App Case Accused Statement: कथित महादेव ऐप घोटाला (Mahadev App Scam) मामले में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के लिए राहत भरी खबर सामने आई है। इस मामले में आरोपी असीम दास ने कोर्ट में अपने बयान से मुकरते हुए कहा कि उससे बघेल के खिलाफ बयान वाले कागज पर जबरन साइन कराया गया। जेल से ईडी के डॉयरेक्टर को लिखे पत्र में उसने कहा कि उसे फंसाया गया है और उसने किसी नेता को पैसे नहीं पहुंचाए। पत्र में उसने कहा है कि उससे अधिकारियों ने अंग्रेजी में लिखे एक बयान पर साइन करने के लिए मजबूर किया, जबकि वह अंग्रेजी नहीं समझता है।

बता दें कि असीम दास और पुलिस आरक्षक भीम सिंह यादव को छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से पहले 3 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था। दास अबअपने बयान से पीछे हट गया है। । ईडी ने कहा था कि दास ने एक कूरियर होने का दावा करते हुए कहा कि था कि महादेव बेटिंग ऐप के प्रमोटरों ने भूपेश बघेल को 508 करोड़ रुपये का भुगतान किया था। जांच एजेंसी ने इसे चौंकाने वाला आरोप बताते हुए जांच की बात कही थी। दास पर आरोप है कि उसने चुनावी फंडिंग के लिए नेताओं तक पैसे पहुंचाए।

ये भी पढ़ें-Explainer: पैसे के लिए इस हद तक गिर गया पाकिस्तान, 2 लाख 30 हजार दो और छोड़ दो देश! समझिए पूरा मामला

बघेल ने लगाया था साजिश का आरोप

बता दें कि इस मामले को लेकर विधानसभा चुनाव प्रचार के समय काफी राजनीति हुई थी। बीजेपी ने इसे लेकर सीएम बघेल समेत कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसे लेकर कांग्रेस पर हमला बोला था। वहीं भूपेश बघेल ने आरोपों को गलत बताया था और कहा था कि ईडी और बीजेपी मिलकर उनके खिलाफ साजिश कर रही हैं।

जानिए महादेव ऐप के बारे में-

क्या है इसमें ईडी का सबसे बड़ा आरोप

ईडी ने कहा था कि 2 नवंबर को रायपुर में महादेव बेटिंग ऐप से जुड़े एक कैश कूरियर से 5.39 करोड़ कैश जब्त किया गया है। बताया गया कि इस पैसे को कांग्रेस के चुनाव प्रचार अभियान के लिए लाया गया था। खासतौर पर यह सीएम भूपेश बघेल के लिए था। ईडी का आरोप है कि भूपेश बघेल को अब तक ऐप प्रमोटर्स से 500 करोड़ से ज्यादा मिल चुके हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने कहा था कि इस ऐप के प्रमोटरों ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को 508 करोड़ रुपए का भुगतान किया था। इसके बाद इसपर विवाद छिड़ गया था। केंद्र सरकार ने महादेव सट्टेबाजी ऐप पर प्रत‍िबंध भी लगा दिया है।

ये भी पढ़ें-Explainer: कुरियर स्कैम क्या है जो एक झटके में आपको बना देगा कंगाल? बैकों ने जारी की है चेतावनी

First published on: Nov 25, 2023 01:15 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version