Venkaiah Naidu: जिस दिन पता चला उपराष्ट्रपति बनने के लिए चुना गया, मैं रोने लगा था

राज्यसभा में सोमवार को सांसदों को संबोधित करते हुए वह बोले मैंने उपराष्ट्रपति पद के लिए कभी नहीं कहा था। यह बीजेपी पार्टी का जनादेश था। मैंने इसे माना और बाध्य होकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

नई दिल्ली: निवर्तमान राज्यसभा अध्यक्ष और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा जिस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुझे बताया कि मुझे पार्टी की तरफ से भारत के उपराष्ट्रपति पद के लिए चुना जा रहा है ”मैं रोने लगा”। आगे वह बोले की मेरे ”आंसू” इसलिए आए थे क्योंकि मुझे पार्टी छोड़नी पड़ी।

 

राज्यसभा में सोमवार को सांसदों को संबोधित करते हुए वह बोले मैंने उपराष्ट्रपति पद के लिए कभी नहीं कहा था। यह बीजेपी पार्टी का जनादेश था। मैंने इसे माना और बाध्य होकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

सभी को अवसर दिया
आगे वह अपने विशेष संबोधन में बोले मैंने सदन को बनाए रखने की पूरी कोशिश की। मैंने सभी पक्षों दक्षिण, उत्तर, पूर्व, पश्चिम, उत्तर-पूर्व को समायोजित करने और अवसर देने का प्रयास किया। सभी सांसदों को समय दिया गया। इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधन करते हुए वेंकैया नायडू के काम की सराहना की।

14 वें उपराष्ट्रपति

बता दें कि 11 अगस्त को देश के 14 वें उपराष्ट्रपति के रूप में जगदीप धनखड़ शपथ लेंगे। 10 अगस्त को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का आखिरी दिन होगा। हाल ही में जगदीप धनखड़ नए उपराष्ट्रपति के लिए चुने गए हैं।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version