Uttarakhand News: अंकिता की लाश मिलने के बाद भड़कीं महिलाएं, आरोपियों को ले जा रही पुलिस की वैन को घेरा

अंकिता के परिवार वालों समेत सैकड़ों की संख्या में महिला थाने पर पहुंच गई। उन्होंने आरोपियों को ले जा रही पुलिस की गाड़ी को रोक लिया। घेराव करते हुए हंगामा किया। वहीं भीड़ ने रिसॉर्ट में भी तोड़फोड़ कर दी।

Uttarakhand News: उत्तराखंड (Uttarakhand) के ऋषिकेश (Rishikesh) जिले में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड के बाद पूरे राज्य में सनसनी फैल गई है। यहां के वनंतरा रिसॉर्ट में रिसेप्शन पर काम करने वाली अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) (19 वर्ष) संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई। शुक्रवार को उत्तराखंड पुलिस ने अंकिता का शव बरामद कर लिया गया है। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस दौरान अंकिता के परिवार वालों समेत सैकड़ों की संख्या में महिला थाने पर पहुंच गई। उन्होंने आरोपियों को ले जा रही पुलिस की गाड़ी को रोक लिया। घेराव करते हुए हंगामा किया।

अभी पढ़ें पियो लेकिन रखो हिसाब, थोड़ी थोड़ी पिया करो!

रिसॉर्ट मालिक समेत तीन आरोपी गिरफ्तार

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक शुक्रवार को अंकिता भंडारी (19 वर्ष) का शव बरामद कर लिया गया। वहीं पुलिस ने अंकिता की हत्या के आरोप में वनंतरा रिसॉर्ट के मालिक और भाजपा के एक नेता के बेटे पुलकित आर्य, रिसॉर्ट के मैनेजर सोरभ भाष्कर और रिसॉर्ट के कर्मचारी पुलकित गुप्ता को भी गिरफ्तार कर लिया। तीनों पर अंकिता की हत्या करने का आरोप है।

भीड़ ने रिसॉर्ट में की तोड़फोड़

वहीं मामले को लेकर स्थानीय लोगों में उबाल है। शुक्रवार को अंकिता के शव मिलने और हत्या के आरोप में रिसॉर्ट के मालिक समेत तीन लोगों की गिरफ्तारी के बाद लोगों के सामने पूरा मामला खुल गया। पहले लोग मामले को सिर्फ गुंशुदगी का समझ रहे थे। रिसॉर्ट के मालिक समेत अन्य लोगों पर आरोप लगा रहे थे। लेकिन शुक्रवार को सामने आया कि रिसॉर्ट में गंदे काम किए जा रहे थे। अंकिता पर भी उसी गंदे काम में धकेलने के लिए दबाव बनाया जा रहा था। इस पर सैकड़ों की संख्या में लोग रिसॉर्ट पर पहुंच गए। पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। रिसॉर्ट में लगे शीशों को भी तोड़ दिया गया।

जानें क्या है अंकिता भंडारी का पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक ऋषिकेश में वनंतरा रिसॉर्ट है। इसका मालिक पुलकित आर्य है। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलकित एक भाजपा नेता का बेटा है। उसके रिसॉर्ट पर गांव श्रीकोट, पट्टी नादलस्यू (पौड़ी गढ़वाल) की रहने वाली अंकिता भंडारी (19 वर्ष) रिस्पेशन पर काम करती थी। आरोप है कि तीन दिन पहले अंकिता संदिग्ध परिस्थियों में लापता हो गई थी। उसका कोई सुराग नहीं लगा। परिवार वालों ने पुलिस चौकी उदयपुर तल्ला में गुमशुदगी दर्ज कराई।

बरामदगी न होने पर परिवार वालों ने भी किया था हंगामा

पुलिस भी अंकिता की तलाश नहीं कर पाई। वहीं मामले में परिवार वालों समेत ग्रामीणों का गुस्सा बढ़ता जा रहा था। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए मुकदमा लक्ष्मणझूला पुलिस को सौंपा। इसी मामले में गुरुवार को लक्ष्मणझूला थाना पुलिस ने रिसॉर्ट पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू की। पुलिस ने बताया कि उन्होंने रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य समेत मैनेजर और अन्य व्यक्ति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया।

अभी पढ़ें ‘बिहार को धोखा देकर लालू की गोद में बैठ गए, क्या ऐसे…’, नीतीश कुमार पर अमित शाह का निशाना

रिसॉर्ट में गंदा काम करने के लिए बनाया जा रहा दबाव

जांच में सामने आया है कि विवाद के बाद सभी आरोपी घूमने का बहाने करके अंकिता को अपने साथ लेकर गए। इसके बाद रास्ते में फिर से इसी बात को लेकर अंकिता के साथ तीनों का विवाद हो गया। विवाद के दौरान आरोपियों द्वारा अंकिता को धक्का लगा और वह एक नहर में जा गिरी। रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य, मैनेजर सौरभ भाष्कर और कर्मचारी पुलकित गुप्ता के साथ अंकिता जाते हुए एक सीसीटीवी फुटेज में भी दिखी है।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version