Ankita Murder Case: रिजॉर्ट तोड़कर सबूत मिटाने के आरोपों का पुलिस ने किया खंडन, जारी किया Video

उत्तराखंड पुलिस ने रिजॉर्ट के तोड़े जाने से पहले जांच का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया, ताकि सबूत मिटाए जाने के आरोपों का खंडन हो सके।

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के ऋषिकेश (Rishikesh) में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) में जांच को लेकर पुलिस ने अपनी कार्रवाई तेज कर दी है। वहीं कार्रवाई पर उठ रहे सवालों का खंडन भी किया जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक उत्तराखंड पुलिस (Uttarakhand Police) ने रिजॉर्ट के तोड़े जाने से पहले जांच का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया, ताकि सबूत मिटाए जाने के आरोपों का खंडन हो सके। बता दें कि अंकिता के पिता ने सबूत मिटाने के लिए रिजॉर्ट के तोड़े जाने का आरोप लगाया था।

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर उतरे लोग, देहरादून से दिल्ली तक प्रदर्शन

24 सितंबर को रिजॉर्ट पहुंची थी फोरेंसिक टीम

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक एक वीडियो जारी किया गया है। एसआईटी टीम प्रभारी डीआईजी पीआर देवी के हवाले से कहा गया है कि 24 सितंबर को फोरेंसिक टीम वनंतरा रिसॉर्ट में जांच के लिए पहुंची थी। जांच के दौरान टीम ने वहां से सभी सबूत इकट्ठा किए थे। फोरेंसिक जांच में इस्तेमाल होने वाले सभी सबूत सुरक्षित हैं और आगे भी जांच जारी रहेगी। बता दें कि रविवार को उत्तराखंड पुलिस की ओर से भी एक वीडियो बयान भी जारी किया गया था। इसमें भी रिजॉर्ट के तोड़े जाने से पहले सारे सबूत जुटाए जाने की बात कही गई थी।

जबरन गलत कामों में धकेला जा रहा था अंकिता को

बता दें कि ऋषिकेश के वनंतरा रिजॉर्ट में रिसेप्शन पर काम करने वाली अंकिता भंडारी (19) अचानक लापता हो गई थी। 23 सितंबर को अंकिता का शव चिल्ला नहर से बरामद हुआ था। पूर्व में मामले की जांच राजस्व पुलिस कर रही थी, लेकिन वह अंकिता को खोज नहीं पाई। इसके बाद लक्ष्मण झुला पुलिस ने मामला हाथ में आते ही 24 घंटे के भीतर अंकिता के शव को बरामद करते हुए वारदात का खुलासा कर दिया। इसमें वनंतरा रिजॉर्ट के मालिक और भाजपा के निष्कासित नेता के बेटे पुलकित आर्य समेत तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तीनों पर आरोप है कि वह अंकिता को ग्राहकों के साथ गलत काम करने के लिए दबाव बना रहे थे।

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी के पिता बोलेसरकार ने रिसॉर्ट तोड़ दिया, वहां तो सबूत थे

आपस में भाई नहीं हैं पुलकित और अंकितः पुलिस

वहीं रविवार को उत्तराखंड पुलिस ने एक और वीडियो जारी किया। इस वीडियो में पुलिस ने एक स्पष्टीकरण दिया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया समेत लोगों से यह जानकारी मिली है कि गिरफ्तार पुलकित आर्य और एक अन्य आरोपी अंकित आपस में भाई हैं। इस पर पुलिस ने स्पष्ट किया है दोनों भाई नहीं हैं। गिरफ्तार अंकित आरोपी पुलकित का कर्मचारी है। रिजॉर्ट में काम करता था।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version