Ankita Murder Case: आरोपी पुलकित के पिता बोले- मेरा बेटा सीधा-साधा, निष्पक्ष जांच के लिए मैंने खुद दिया इस्तीफा

विनोद आर्य ने दावा किया है कि उनका बेटा निर्दोष है। उन्होंने कहा कि वह कभी भी इस तरह की गतिविधियों में शामिल नहीं होगा।

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के ऋषिकेश (Rishikesh) में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) के बाद पहली बार आरोपी पुलकित आर्य (Pulkit Arya) के पिता और भाजपा नेता विनोद आर्य (Vinod Arya) का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि पुलकित एक सीधा-साधा लड़का है।

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: आरोपी पुलकित ने अंकिता के दोस्त को किया था गुमराह, सामने आई कॉल रिकॉर्डिंग

पुलकित पर लगे आरोपों का किया खंडन

पिता विनोद आर्य ने पुलकित के खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों का खंडन किया और दावा किया कि उनका बेटा निर्दोष है। उन्होंने कहा कि वह अपने बेटे पुलकित और हत्या की गई लड़की, दोनों के लिए न्याय चाहता हूं। वह कभी भी इस तरह की गतिविधियों में शामिल नहीं होगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलकित लंबे समय से उनसे अलग रह रहा था।

भाजपा ने पिता-पुत्र को पार्टी से निकालाः रिपोर्ट्स

विनोद आर्य की यह टिप्पणी 19 वर्षीय अंकिता की हत्या के बाद फैले आक्रोश के बीच भाजपा द्वारा उन्हें और उनके बेटे अंकित आर्य को पार्टी से निष्कासित करने के एक दिन बाद आई है। हालांकि, विनोद आर्य ने दावा किया कि उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच में सहयोग करने के लिए शनिवार को खुद पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा कि पुलकित निर्दोष है। फिर भी मैंने निष्पक्ष जांच के लिए भाजपा के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। कहा कि मेरे बेटे अंकित ने भी इस्तीफा दे दिया है।

मेहमानों को विशेष सेवाएं देने का बना रहे थे दबाव

बता दें कि ऋषिकेश में रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य को शुक्रवार को रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक के साथ गिरफ्तार किया गया था। राज्य के डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि आरोपियों से पूछताछ और अंकिता के मोबाइल चैट के आधार पर जांच से पता में पता चला है कि रिसॉर्ट में मेहमानों को “विशेष सेवाएं” देने करने के लिए अंकिता पर दबाव डाला गया था, जिसका उसने विरोध किया था।

फेसबुक फ्रेंड ने पुलिस को बताई सच्चाई

उन्होंने कहा कि लापता होने से कुछ दिन पहले अंकिता ने अपने करीबी दोस्त को आपबीती साझा करते हुए व्हाट्सएप संदेश भेजे थे। इनमें लिखा था कि “वे मुझे एक वेश्या में बदलने की कोशिश कर रहे हैं।” रिपोर्ट्स के मुताबिक तीनों आरोपियों ने लोगों ने कथित तौर पर लड़की की पहले पिटाई की और उसे रिसॉर्ट के पास एक नहर में धकेल दिया।

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर उतरे लोग, देहरादून से दिल्ली तक प्रदर्शन

आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगीः सीएम धामी

अंकिता के एक फेसबुक दोस्त ने कथित तौर पर कहा था कि अंकिता को इसलिए मार दिया गया है क्योंकि उसने रिसॉर्ट में मेहमानों के साथ गलत संबंध बनाने से इनकार कर दिया था। यह भी बताया कि उसे ₹ 10,000 की पेशकश की गई थी। डीजीपी ने कहा कि पुलिस उप महानिरीक्षक रेणुका देवी की अध्यक्षता में एक विशेष जांच दल (एसआईटी) अब इस मामले की जांच कर रहा है,। पुलिस सुनिश्चित करेगी कि इस जघन्य अपराध के लिए आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले। वहीं एसआईटी का गठन करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश हैं कि मामले में कठोर कार्रवाई की जाए। चाहे सामने कोई भी हो।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version