‘राज्यपाल को कहीं और भेजो’, शिवाजी पर टिप्पणी से बढ़ा विवाद, शिंदे गुट के विधायक की मांग

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट के एक विधायक ने छत्रपति शिवाजी के बारे में अपनी टिप्पणी के बाद केंद्र सरकार से राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को राज्य से बाहर करने की मांग की है। पार्टी के विधायक संजय गायकवाड ने मांग की है कि राज्यपाल कोश्यारी को किसी अन्य जगह पर भेजा जाए।

उन्होंने कहा “राज्यपाल को छत्रपति शिवाजी महाराज के आदर्शों को समझना चाहिए, उनकी तुलना किसी अन्य महान व्यक्ति से नहीं की जा सकती है केंद्र में भाजपा नेताओं से मेरा अनुरोध है कि एक ऐसे व्यक्ति को भेजा जाए जो राज्य के इतिहास को नहीं जानता है।” कोश्यारी के इस बयान की एनसीपी और उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना ने भी कड़ी आलोचना की है।

राज्यपाल कोश्यारी ने शनिवार को कहा था कि शिवाजी पुराने दिनों के आइकॉन थे। उन्होंने बाबासाहेब अंबेडकर और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को राज्य का आइकॉन बताया था।

- विज्ञापन -

राज्यपाल भगत सिंह के बयान के बाद खुद नितिन गडकरी सामने आए हैं। उन्होंने कहा, ‘शिवाजी महाराज हमारे भगवान हैं। हम उनका नाम अपने माता-पिता से भी ज्यादा सम्मान के साथ लेते हैं।’ कोश्यारी के बयान पर छिड़ी रार के बाद यह पहला मौका है, जब नितिन गडकरी ने चुप्पी तोड़ी है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version