ईरान में बवाल जारी, मरने वालों की संख्या पहुंची 82

जाहेदान, सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत में 30 सितंबर को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसक झड़प में बच्चों समेत कम से कम 66 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों अन्य घायल हो गए।

तेहरान: ईरान के सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी ज़ाहेदान में ईरान के सुरक्षा बलों और लोगों के बीच घातक झड़पों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 82 हो गई है। गुरुवार को एमनेस्टी इंटरनेशनल ने यह जानकारी दी। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक बलूची जातीय अल्पसंख्यकों की आबादी वाले ज़ाहेदान में राष्ट्रव्यापी विरोध हो रहा है। वहीं यहां एकजुटता दिखाने और प्रांत में एक पुलिस कमांडर द्वारा 15 वर्षीय लड़की के कथित बलात्कार के लिए जवाबदेही की मांग के रूप में 30 सितंबर को शुक्रवार की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन किए जा रहें हैं।

अभी पढ़ें लव ट्रायंगल में दोस्त को कहा रील बनाएंगे और कर दी हत्या

अभी पढ़ें एयरपोर्ट पर यात्री से मिली 80 करोड़ की हेरोइन, जांच एजेंसियों को झांसा देने के लिए इस जगह छिपाई थी

जानकारी के मुताबिक जाहेदान, सिस्तान और बलूचिस्तान प्रांत में 30 सितंबर को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसक झड़प में बच्चों समेत कम से कम 66 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों अन्य घायल हो गए। तब से जारी संघर्षों के बीच ज़ाहेदान में अलग-अलग घटनाओं में 16 अन्य लोग मारे गए। लगातार मौत की संख्या बढ़ रही है। जैसे-जैसे मौत की संख्या बढ़ती जा रही यहां से प्रदर्शनकारियों, पीड़ितों के परिवारों, प्रत्यक्षदर्शियों और विरोध प्रदर्शनों की फोटो और वीडियो सामने आ रहीं हैं। आगे मौम की संख्या ओर बढ़ने की आशंका है।

नॉर्वे स्थित ईरान मानवाधिकार (IHR) ने कहा कि ईरानी अधिकारियों ने बार-बार मानव जीवन की पवित्रता के लिए पूरी तरह से अवहेलना दिखाई है। एमनेस्टी इंटरनेशनल के महासचिव एग्नेस कैलामार्ड ने कहा इस तरह के कार्यों को रोकने के लिए सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

अभी पढ़ें   देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version