WhatsApp Users हो जाएं सावधान! सरकार ने जारी की नई एडवाइजरी

WhatsApp New Advisory: हाल ही में व्हाट्सएप पर वीडियो कॉलिंग से जुड़ा एक नया मामला सामने आया है। हैकर्स अपने काम को अंजाम दे रहे हैं।

WhatsApp Multiple Vulnerabilities Reported: अगर आप सोशल मीडिया मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप (WhatsApp ) का इस्तेमाल करते हैं। इसका यूज थोड़ा सतर्कता से करें, क्योंकि पिछले कुछ सालों से ऐप पर हैकिंग के मामले देखे जा रहे हैं। हाल ही में एक नया मामला सामने आया है जो वीडियो कॉलिंग से जुड़ा हुआ है।

अगर आप व्हाट्सएप वीडियो कॉलिंग स्कैम के शिकार हो गए हैं तो शायद आप इससे अनजान नहीं होंगे। इसी को लेकर भारतीय सरकार की ओर से व्हाट्सएप यूजर्स को चेतावनी दी गई है। केंद्र सरकार द्वारा यूजर्स के लिए एक एडवाइजरी जारी की गई है।

अभी पढ़ें – Instagram अकाउंट हो गया है हैक? तो ऐसे करें रिपोर्ट और जानें रिकवर का तरीका

CERT-In ने दी चेतावनी 

आईटी मंत्रालय के इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (CERT-In) की ओर से जारी की गई है। CERT-In टिम ने कहा है कि व्हाट्सएप के एंड्रॉयड (Android) और आईओएस (iOS) के v2.22.16.12 वर्जन में कुछ खामी पाई गई है, जिसका फायदा उठाकर हैकर्स आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। बता दें कि CERT-In ने इससे पहले गूगल क्रोम में मिले बग को लेकर यूजर्स को चेतावनी दी थी।

WhatsApp में मिली ये खामियां

CERT-In की एडवाइजरी के अनुसार व्हाट्सएप के एंड्रॉयड और iOS वर्जन पर v2.22.16.12, आईओएस वर्जन v2.22.15.9, आईओएस बिजनेस वर्जन v2.22.16.12 और एंड्रॉयड बिजनेस वर्जन v2.22.16.12 के पहले के वर्जन पर कई खामियां मिली हैं। इन खामियों का फायदा उठाकर हैकर्स (Hackers) आपके व्हाट्सएप को हैक कर सकते हैं। इन खामियों के कारण हैकर्स व्हाट्सएप वीडियो कॉल के जरिए आपके स्मार्टफोन में रिमोट कोड स्टेबलिस्ट कर सकते हैं। इससे बचाव के लिए अपना WhatsApp update कर लें।

अभी पढ़ें – WhatsApp से ही कर सकेंगे आधार और पैन कार्ड डाउनलोड, ये है आसान तरीका

गूगल क्रोम पर भी मिली थीं खामियां

व्हाट्सएप से पहले गूगल क्रोम के यूजर्स भी हैकर्स अपने शिकार बना रहें थे, जिसके बाद CERT-In ने गूगल क्रोम के यूजर्स को चेतावनी जारी की थी। इस दौरान कहा गया था कि गूगल क्रोम में कुछ खामी पाई गई है, जिससे हैकर्स इसका फायदा उठाकर कंप्यूटर को आसानी हैक कर सकते हैं।

CERT-In ने कहा था कि हैकर्स आपके सिस्टम पर क्राफ्टेड रिक्वेस्ट भेजकर इससे अटैकर्स आर्बिटर्री कोड (Arbitary code) एग्जीक्यूट कर सकते हैं। ये कोड आपके कम्प्यूटर की सुरक्षा को बायपास कर सकता है और आपके सिस्टम को पूरी तरह से हैक कर सकता है।

अभी पढ़ें  गैजेट्स से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version