मोबाइल खोने या चोरी होने पर करें UPI payment Deactivate, ये है आसान तरीका

UPI Payments Block Process: आजकल ज्यादातर लोग अपने फोन में डिजिटल पेमेंट ऐप्स रखते हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) का यूज करते हैं, जो कि भारत में एक प्रमुख पेमेंट सिस्टम बन गया है। इसके जरिए लाखों-करोड़ों यूजर्स लेनदेन करते हैं। बिल भुगतान से लेकर किसी को पैसे भेजने तक के लिए यूपीआई पेमेंट का यूज किया जाता है। फोन में यूपीआई पेमेंट्स का होना एक तरह से बैंक की सभी जानकारी होने के बराबार है। अगर मोबाइल फोन खो जाए तो यूजर को सबसे पहले यूपीआई पेमेंट्स को निष्क्रिय करना चाहिए।

 

और पढ़िएऐसा नजर आएगा iPhone 14 Pro Max! फोन को हाथ में लेने वाले शख्स ने दी कैमरे और डिजाइन की जानकारी

 

जी हां, मोबाइल फोन खोने पर आपको सबसे पहले यूपीआई लेनदेन करने वाले ऐप को डीएक्टिवेट करना चाहिए। यूपीआई ऐप को डीएक्टिवेट करने से पहले ये जरूर ध्यान रखें कि आपको अपना UPI PIN या कोई अन्य संवेदनशील जानकारी किसी के साथ साझा नहीं करनी है। आइए जानते हैं कि कैसे मोबाइल खोने के बाद यूपीआई ऐप्स को डीएक्टिवेट कर सकते हैं।

 

और पढ़िएजल्दी उठा लें Reliance Digital India Sale का फायदा, आधे से भी कम दाम में मिल रहा है AC

 

  1. सबसे पहले अपने मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर के कस्टमर केयर सर्विस नंबर पर कॉल करें। अब अपने फोन में मौजूद सिम नंबर को ब्लॉक करवाएं। इससे आपकी सिम कार्ड का गलत इस्तेमाल होना बच सकेगा। सिम ब्लॉक करवाने के लिए आपसे नाम, बिलिंग पता समेत जानकारी मांगी जाएगी।
  2. सिम ब्लॉक करने के बाद अपने बैंक अकाउंट से भी फोन नंबर को ब्लॉक जरूर करवा लें। साथ ही UPI सर्विस को भी बैंक से हटवा लें। इसके लिए आपको अपने बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करना होगा।
  3. मोबाइल फोन खोने या चोरी होने पर FIR भी जरूर दर्ज करवाना चाहिए। आप आसानी से ऑनलाइन तरीके को अपनाकर FIR दर्ज करवा सकते हैं।

 

और पढ़िए – गैजेट्स से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

 

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version