Razia Sultana DSP: बिहार की पहली मुस्लिम महिला रजिया सुल्ताना बनी डीएसपी, सरकारी नौकरी छोड़ अब पहनेंगी वर्दी

Razia Sultana DSP: बिहार की पहली मुस्लिम महिला रजिया सुल्ताना बनी डीएसपी, सरकारी नौकरी छोड़ अब पहनेंगी वर्दी

Sports News24
Nirmal Kumar PareekNews2410th June 2021, 1:38 pm
razia

Success Story : बिहार की रजिया सुल्तान ने इतिहास रच दिया है। बिहार पुलिस में डायरेक्ट पुलिस उपाधिक्षक (डीएसपी) बनने वाली वह पहली मुस्लिम महिला हैं। हाल ही में बिहार पब्लिक सर्विस कमिशन (बीपीएससी) का रिजल्ट आने के बाद रजिया सुल्तान ने ये उपलब्धि हासिल की है। मशरक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के पूर्व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ एआर अंसारी की भतीजी रजिया सुल्तान ने बीपीएससी की 64वीं परीक्षा में सफल होकर इतिहास रच दिया।

कौन हैं DSP रजिया सुल्ताना?

बिवह बिहार की पहली मुस्लिम महिला है जिसका चयन डीएसपी के लिए हुआ है. वह गोपालगंज के हथुआ के रतनचक की रहनेवाली है। इनके पिता एमडी असलम अंसारी बोकारो स्टील प्लांट में स्टेनोग्राफर पद पर नौकरी करते थे। उनका साल 2016 में इंतकाल हो चुका है। फिलहाल पूरा परिवार बोकारो में ही रह रहा है।

कोचिंग जगत से जुड़े डॉ. एम रहमान ने बताया कि बीपीएससी से अबतक बिहार की कोई मुस्लिम महिला डायरेक्ट डीएसपी नहीं बनी थी। मुस्लिम छात्राओं के लिए रजिया सुल्तान प्रेरणास्रोत हैं।

पहले प्रयास में मिली सफलता –

रजिया सुल्तान ने 2009 में बोकारो से मैट्रिक की परीक्षा पास की। 2011 में बोकारो से प्लस टू और फिर जोधपुर से इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में स्नातक पास किया। 2017 से वह बिजली विभाग में सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत हैं। रजिया सुल्तान ने बताया कि पटना में बीपीएससी की कोचिंग हिंदी में होती है, इसलिए वह सहज नहीं थीं। सेल्फ स्टडी की और अंग्रेजी माध्यम में सभी पेपर दिये। उनका सब्जेक्ट श्रम एवं समाज कल्याण था। पटना में नौकरी करते तैयारी की औऱ पहले ही प्रयास में सफलता पायी।

40 डीएसपी में चार मस्लिम –

कोचिंग जगत से जुड़े डॉ. एम रहमान बताते हैं कि 64वीं बीपीएससी के 1454 में से 98 मुस्लिम उम्मीदवार सफल रहे हैं। 40 अभ्यर्थी डीएसपी बने हैं। इनमें चार मुस्लिम हैं। डायरेक्टर बिहार पुलिस में डीएसपी बनने वालीं रजिया सुल्तान बिहार की पहली मुस्लिम महिला बन गई हैं।

राजस्थान से इंजीनियरिंग की है –

रजिया ने 12वीं तक की पढ़ाई बोकारो से की है। इसके बाद वह जोधपुर इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग से ग्रेजुएशन करने राजस्थान आ गईं। इसके बाद बिजल विभाग में उनकी नौकरी लग गई और नौकरी करते हुए वह तैयारी करती रहीं।

 



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .