NEET Result 2021: एनटीए इस दिन तक जारी करेगा नीट यूजी का रिजल्ट, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

NEET Result 2021: एनटीए इस दिन तक जारी करेगा नीट यूजी का रिजल्ट, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

Sports News24
Nirmal Kumar PareekNews2421st October 2021, 11:02 am
supreme court1 (1)

NEET UG Result 2021: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) जल्द ही अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET 2021 result) का परिणाम जारी करेगा। 16 लाख से ज्यादा छात्रों का रिजल्ट आधिकीारिक वेबसाइट पर जारी किया जाएगा। परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र रिजल्ट जारी होने के बाद आधिकारिक वेबसाइट neet.nta.nic.in के माध्यम से चेक कर पाएंगे।

विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नीट (यूजी) 2021 रिजल्ट की घोषणा इस माह के आखिर तक यानि 31 अक्टूबर 2021 तक की जा सकती है। हालांकि, एनटीए की तरफ नीट रिजल्ट 2021 को लेकर फिलहाल कोई भी जानकारी आधिकारिक रूप से जारी नहीं की गयी है।

बता दें कि NEET UG 2021 परिणाम के साथ, NEET की आंसर की भी जारी की जाएगी। छात्र आंसर की के साथ अपने उत्तरों का मिलान कर सकते हैं क्योंकि इसके आधार पर अंतिम स्कोर कार्ड तैयार किया जाता है। उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा पास करने के लिए न्यूनतम नीट 2021 कट-ऑफ पर्सेंटाइल और स्कोर हासिल करने की आवश्यकता है। कट ऑफ की घोषणा नीट रिजल्ट के साथ की जाएगी।

NEET Result 2021: ऐसे चेक कर पाएंगे रिजल्ट

– सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट neet.nta.nic.in पर जाएं।

– इसके बाद ‘NEET UG 2021 result’ लिंक पर क्लिक करें।

– यहां पर मांगी गई जानकारी भरें और सबमिट बटन पर क्लिक कर लें।

– अब आपका रिजल्ट आपके सामने होगा।

– अब इसे डाउनलोड कर लें और इसका प्रिंट ले लें।

रिजल्ट चेक करते समय, छात्रों को अपना नाम, माता-पिता का नाम, जन्म तिथि, कैटेगरी,जेंडर सहित अन्य पर्सनल डिटेल्स की जांच करनी चाहिए। NEET आवेदन संख्या, रोल नंबर, सब्जेक्ट वाइज मार्क्स, प्रतिशत, ऑल इंडिया रैंक (AIR) आदि जानकारी जो स्कोर कार्ड पर लिखी हो, उसकी डिटेल्स को ध्यान से चेक करना चाहिए। परिणाम में किसी भी तरह की गलती पाने पर उम्मीदवार ईमेल आईडी- [email protected] के माध्यम से NTA से संपर्क कर सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका –
दूसरी तरफ, नीट (यूजी) 2021 परीक्षा में कुछ केंद्र पर कथित नकल के आरोपों और सीबीआई द्वारा की गयी जांच के आधार पर परीक्षा में सम्मिलित हुए कुछ उम्मीदवारों ने परीक्षा के रद्द करने और नकल रोकने की बेहतर तैयारियों के साथ फिर से आयोजन की मांग करते एक याचिका सर्वोच्च न्यायालय में दायर की गयी थी। हालांकि, याचिकाकर्ताओं की दलील सुनने के बाद मामले की सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव की अध्यक्षता वाली खण्डपीठ ने कहा कि कोर्ट इस समय इस मामले में हस्तक्षेप नहीं कर सकता है। खण्ड पीठ ने कहा कि इस समय परीक्षा में कोई भी हस्तक्षेप बहुत बड़ी संख्या में छात्रों के लिए हानिकारक साबित होगा।



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .