छात्रों में नवाचार और उद्यमिता को विकसित करने के लिए सीबीएसई और एआईसीटीई ने सयुंक्त रूप से ‘इनोवेशन एंबेसडर प्रोग्राम’ लॉन्च किया

छात्रों में नवाचार और उद्यमिता को विकसित करने के लिए सीबीएसई और एआईसीटीई ने सयुंक्त रूप से ‘इनोवेशन एंबेसडर प्रोग्राम’ लॉन्च किया

Sports News24
Neharika GuptaNews2416th June 2021, 9:53 am
88809090

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) के साथ साझेदारी की है। इसके तहत बोर्ड ने ‘इनोवेशन एंबेसडर प्रोग्राम’ संयुक्त रूप से शुरू किया है। कार्यक्रम के हिस्से के रूप में, सीबीएसई से संबद्ध स्कूलों में शिक्षकों को डिजाइन सोच और नवाचार, विचार निर्माण और आदर्श हैंड-होल्डिंग, बौद्धिक संपदा अधिकार, उत्पाद या प्रोटोटाइप विकास, वित्त, बिक्री और मानव संसाधन सहित पांच मॉड्यूल पर प्रशिक्षित किया जाएगा।

NEP-2020 स्कूल स्तर पर समस्या-समाधान और आलोचनात्मक सोच के लिए युवा छात्रों के पोषण पर जोर देता है। इसलिए, शिक्षकों को नवप्रवर्तन और उद्यमिता (Innovation and Entrepreneurship) को आगे बढ़ाने के लिए इन युवा छात्रों का मार्गदर्शन करना होगा। शिक्षकों की सलाह क्षमता को मजबूत करने के लिए, सीबीएसई ने इनोवेशन सेल, एआईसीटीई, शिक्षा मंत्रालय के सहयोग से ‘इनोवेशन एंबेसडर प्रोग्राम’ लॉन्च किया। इनोवेशन एंबेसडर प्रोग्राम की हिमायत पर आयोजित ऑनलाइन जागरूकता कार्यक्रम में 40,000 से अधिक शिक्षकों ने भाग लिया।

इन पांच मॉड्यूल पर प्रशिक्षित किया जाएगा
डिजाइन थिंकिंग और इनोवेशन
आइडिया जनरेशन और आइडियल हैंड-होल्डिंग
बौद्धिक संपदा अधिकार
उत्पाद / प्रोटोटाइप विकास
वित्त, बिक्री और मानव संसाधन

चीफ इनोवेशन ऑफिसर ने दी जानकारी
अभय जेरे, चीफ इनोवेशन ऑफिसर, एआईसीटीई ने ऑनलाइन इनोवेशन एंबेसडर ट्रेनिंग प्रोग्राम पर बोलते हुए कहा कि यह छात्रों के विचारों को पोषित करने के लिए मेंटरिंग क्षमता को मजबूत करने में मदद कर सकता है। उन्होंने कहा कि यह देश भर में स्कूली शिक्षा में नवाचार की संस्कृति को व्यवस्थित रूप से बढ़ावा देगा। इसके अलावा मनोज आहूजा, अध्यक्ष सीबीएसई ने ए.आई.टी.ई. के साथ ए.आई.टी.ई. के साथ ए.टी.एल. अकादमी के तहत प्रशिक्षण कार्यक्रम और नए क्षेत्रों एआई, ब्लॉकचैन, कोडिंग, साइबर सुरक्षा में शिक्षकों के प्रशिक्षण के बारे में बताया।

एआईसीटीई के अध्यक्ष प्रोफेसर अनिल डी सहस्रबुद्धे ने छात्रों में आशा व्यक्त की क्योंकि वे अपने परिवेश का निरीक्षण करना सीखते हैं और स्कूलों में नवाचार करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। डॉ विश्वजीत साहा निदेशक प्रशिक्षण और कौशल ने दो प्रमुख संस्थानों के संयुक्त प्रयासों का स्वागत किया और भविष्य के नेताओं के पोषण के लिए स्कूलों में नवाचार क्लब बनाने पर जोर दिया।

 



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .