World Teachers Day 2021: विश्व शिक्षक दिवस पर लागू होंगी खास सिफारिशें, जानें इतिहास और महत्व

World Teachers Day 2021: विश्व शिक्षक दिवस पर लागू होंगी खास सिफारिशें, जानें इतिहास और महत्व

Sports News24
Neharika GuptaNews245th October 2021, 8:20 am
43ewe

World Teachers’ Day 2021: आज, 5 अक्टूबर 2021 को विश्व शिक्षक दिवस है। जहां भारत में हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है तो वहीं दूसरी ओर वैश्विक स्तर पर 5 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष का विश्व शिक्षक दिवस पिछले डेढ़ वर्षों तक जूझते रहे समूचे विश्व के कोरोना महामारी के संकट से उबरने में शिक्षकों के योगदान में उनकी जरूरतों में सहयोग पर फोकस करता है। यही कारण है कि इस वर्ष यूनेस्को द्वारा अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस 2021 की थीम- ‘टीचर्स ऐट द हार्ट ऑफ एजुकेशन रिकवरी’ निर्धारित किया गया है।

विश्व शिक्षक दिवस का इतिहास

यूनाइटेड नेशंस एजुकेशनल, साइंटिफिक एंड कल्चरल ऑर्गेनाइजेशन (UNCESCO या यूनेस्को) और इंटरनेशनल लेबर आर्गेनाइजेशन (ILO या आईएलओ) के द्वारा विश्व भर में शिक्षकों की स्थिति और उनसे जुड़े मुद्दों को लेकर सुझावों के लिए वर्ष 1966 में ही मसौदा तैयार किया गया था। जिसके बाद से इस हर वर्ष 5 अक्टूबर को मनाया जाता है। साथ ही इस दिन विश्व के निर्माण में शिक्षकों के योगदान को याद किया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस’ का उद्देश्य

इस ‘अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस’ को मनाने का महत्वपूर्ण उद्देश्य ये है कि शिक्षकों के महत्व और उनके योगदान को सम्मान दिलाया जाता है। यह दिन पूरी तरह दुनिया भर के सभी शिक्षकों को समर्पित होता है। इस दिन

अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस’ का महत्व

इस दिन का महत्व पूरी दुनिया में है। शिक्षक है तो कल है। कल है तो राष्ट्र है, राष्ट्र है तो दुनिया है। ‘अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस’ का उद्देश्य दुनिया भर के शिक्षकों की सराहना करना, मूल्यांकन और सुधार पर लोगों का ध्यान केंद्रित करना है। विश्व में शिक्षकों की जिम्मेदारी, उनके अधिकार और आगे की पढ़ाई के लिए उनकी तैयारी को महत्व दिया जाता है।

इस बार के शिक्षक दिवस पर होगा ये आकर्षण

यूनेस्को द्वारा इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस समारोह 4 से 8 अक्टूबर 2021 तक मनाया जा रहा है। इस दौरान आईएलओ और यूनेस्को के साझा विशेषज्ञों की समिति की बैठक में शिक्षण कर्मियों (सीईआरटी) से संबंधित सिफारिशों को लागू किया जाएगा।

इसके अलावा इस बार वैश्विक और क्षेत्रीय आयोजनों की पांच दिवसीय श्रृंखला में टीचिंग प्रोफेशन पर कोरोना महामारी के प्रभाव को प्रदर्शित किया जाएगा। साथ ही शिक्षण कर्मियों का पूर्ण क्षमता के साथ विकास हो, इस पर भी जोर दिया जाएगा।



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .