Latest Jobs: यहां मिलेगी 1 लाख से अधिक लोगो को नौकरियां, खबर पढ़कर खुशी से झूम उठेंगे

Latest Jobs: यहां मिलेगी 1 लाख से अधिक लोगो को नौकरियां, खबर पढ़कर खुशी से झूम उठेंगे

Sports News24
Neharika GuptaNews2425th November 2021, 11:04 am
2wpal,

New Delhi, Latest Jobs: दिल्ली-एनसीआर को मिलने वाला जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों के साथ हरियाणा (NCR) और दिल्ली की किस्मत भी बदलने वाला है। जेवर में एयरपोर्ट बनने से पूरे वेस्टर्न यूपी में 5 लाख नई नौकरियों का सृजन होगा। इससे जहां नोएडा और ग्रेटर नोएडा के साथ देशभर के बेरोजगार युवाओं को नौकरियों का तोहफा मिलेगा, वहीं गौतम बुद्ध नगर जिले को भी एक अलग पहचान भी मिलेगी। इसके लिए 50 हजार करोड़ रुपए के निवेश की तैयारी है। जेवर में एयरपोर्ट बनाने को लेकर सीएम अखिलेश यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र भेजा था, जिसमें जेवर के अलावा आगरा में भी एयरपोर्ट बनाने की मांग की थी। हालांकि आगरा में एयरपोट बनेगा या नहीं इस बारे केंद्र सरकार का कोई जवाब नहीं मिला है।

केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा को भी अखिलेश यादव ने पत्र भेजा है, जिसमें जेवर के अलावा आगरा के हिरनगांव के पास एयरपोर्ट बनाने को कहा गया है। डॉ. शर्मा ने बताया कि यूपी सीएम के प्रस्ताव पर जवाब भेजा जाएगा। इसमें 2008 की ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट पॉलिसी के अनुसार अधिकारिक रूप से प्रस्ताव और एयरपोर्ट की डीपीआर तैयार कर देनी होगी। डीपीआर के आधार पर मंत्रालय जरूरी अप्रूवल और क्लीयरेंस जारी करेगा। उन्होंने बताया कि जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनने से दिल्ली एयरपोर्ट पर मुसाफिरों का लोड कम करने में मदद मिलेगी और मथुरा-वृंदावन के ब्रज सर्किट को टूरिज्म के लिहाज से फायदा मिलेगा। हालांकि आगरा में एयरपोर्ट बनने से पर्यटन की दृष्टि से विदेशी टूरिस्टों को फायदा मिलेगा।

मायावती के कार्यकाल की परियोजना
बता दें कि जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने का प्रस्ताव 2001 में तैयार किया गया था। मायावती के कार्यकाल में एयरपोर्ट बनाने को लेकर जमीन भी रिजर्व की गई थी। हालांकि 2012 में एसपी गवर्नमेंट आने के बाद जेवर के बजाय एयरपोर्ट को आगरा या फिरोजाबाद के आसपास में बनाने पर जोर दिया गया था। यमुना एक्सप्रेस-वे अथॉरिटी की 35 गांवों की 10 हजार हेक्टेयर जमीन एयरपोर्ट प्रोजेक्ट के लिए रिजर्व रखी गई है। 2001 से रिजर्व इस जमीन के कुछ हिस्से में अब यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी ने इंडस्ट्री डेवलप करने की प्लानिंग की है। जेवर एयरपोर्ट के दिल्ली मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर और दिल्ली मुंबई फ्रेड कॉरिडोर के पास होने से इलाके में डिवेलपमेंट में मील का पत्थर साबित होगा।

इनको मिलेगा सबसे ज्यादा फायदा
1 . देसी-विदेशी यात्रियों के शहर में आने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा
2 . अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर जेवर को स्थान मिलेगा
3 . प्रदेश सरकार को राजस्व मिलेगा
4 . टैक्सी और ऑटो चालकों को रोजगार मिलेगा
5 . होटल उद्योग को मिलेगा बढ़ावा
6 . संपत्ति के कारोबार को भी होगा फायदा
7 . लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .