12वीं पास युवाओं के लिए दिल्ली सरकार का बड़ा तोहफा, 5000 स्वास्थ्यकर्मियों की होगी भर्ती

12वीं पास युवाओं के लिए दिल्ली सरकार का बड़ा तोहफा, 5000 स्वास्थ्यकर्मियों की होगी भर्ती

Sports News24
Neharika GuptaNews2416th June 2021, 10:44 am
Untitled

देश कोरोना वायरस की तीसरी लहर की भी आशंका जताई जा रही है। इसके देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Govt) तैयारी में जुट गई है और 5000 हेल्थ असिस्टेंट (Health Assistant) तैयार करेगी। स्वास्थ्यकर्मियों की भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया 17 जून से शुरू होगी। चयनित युवाओं को 27 जून से ट्रेनिंग दी जाएगी। यह घोषणा बुधवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने की।

उन्होंने कहा, ‘सरकार ने तीसरी लहर से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। पहली और दूसरी लहर में हमने मेडिकल और पैरामेडिकल स्टाफ की कमी देखी थी। अब हम 5000 हेल्थ असिस्टेंट को ट्रेनिंग देंगे। 500-500 युवाओं के बैच में ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए आवेदन करने वाले कम से कम 12वीं पास और 18 साल से अधिक उम्र के होंगे।’

17 जून से शुरू होगी आवेदन की प्रक्रिया
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बताया, ‘स्वास्थ्यकर्मियों की भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया 17 जून से शुरू होगी और चयनित युवाओं को 27 जून से ट्रेनिंग दी जाएगी। आवेदन करने वाले कम से कम 12वीं पास होने चाहिए और उनकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए।

500-500 के बैच में दी जाएगी ट्रेनिंग
अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बताया, ‘हेल्थ असिस्टेंट (Health Assistant) की ट्रेनिंग 500-500 के बैच में होगी, जिसकी शुरुआत 27 जून से होगी। 15 दिनों की ट्रेनिंग के बाद फिर दूसरे बैच में 500 लोगों को शामिल किया जाएगा। इस तरह हम कुल 5000 हेल्थ असिस्टेंट को ट्रेनिंग देंगे।’

दिल्ली सरकार ने क्यों लिया निर्णय
अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘पहली और दूसरी लहर के दौरान मेडिकल और पैरामेडिकल स्टाफ की कमी देखी गई थी, इस कमी को पूरा करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। इस निर्णय से संभावित तीसरी लहर को लेकर चल रही हमारी तैयारी को काफी मजबूती मिलेगी।’

हेल्थ असिस्टेंट को किन-किन चीजों की दी जाएगी ट्रेनिंग
सीएम केजरीवाल ने बताया, ‘हेल्थ असिस्टेंट (Health Assistant) को आईपी यूनिवर्सिटी दिल्ली के 9 प्रमुख चिकित्सा संस्थानों में बुनियादी प्रशिक्षण देगी। पांच हजार युवाओं को नर्सिंग, पैरामेडिक्स, होम केयर, ब्लड प्रेशर मापने, वैक्सीन लगाने आदि की बेसिक ट्रेनिंग दी जाएगी।

हेल्थ असिस्टेंट तैयार करने से होगा ये फायदा
हेल्थ असिस्टेंट, डॉक्टर और नर्स के असिस्टेंट के रूप में काम करेंगे और खुद से कोई निर्णय नहीं ले पाएंगे। हेल्थ असिस्टेंट की मदद लेकर डॉक्टर अधिक कुशलतापूर्वक काम कर पाएंगे और मरीजों की देखभाल भी काफी अच्छे से हो सकेगी।



देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .