Trendingup board resultlok sabha election 2024IPL 2024UP Lok Sabha ElectionNews24PrimeBihar Lok Sabha Election

---विज्ञापन---

RBI ने IIFL फाइनेंस को दिया बड़ा झटका, नए गोल्ड लोन देने पर क्यों लगाई रोक?

RBI Action IIFL Finance: आरबीआई ने कुछ समय पहले पेटीएम पर कार्रवाई की थी। अब दिग्गज फाइनेंस कंपनी आईआईएफएल पर एक्शन लिया गया है। जिसके अनुसार, नए गोल्ड लोन देने पर रोक लगाई गई है। हालांकि पुराने गोल्ड लोन पहले की तरह ही चलते रहेंगे।

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Mar 4, 2024 19:56
Share :
RBI का IIFL Finance पर एक्शन।

RBI Action IIFL Finance: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) एक के बाद एक बड़े फैसले ले रही है। हाल ही में पेटीएम पर एक्शन लेने के बाद आरबीआई ने सोमवार को आईआईएफएल फाइनेंस लिमिटेड पर बड़ी कार्रवाई की। आरबीआई ने आईआईएफएल फाइनेंस लिमिटेड को तत्काल प्रभाव से गोल्ड लोन देने पर रोक लगा दी है।

सुपरवाइजरी चिंताओं को लेकर लिया गया एक्शन

ये एक्शन सोने की शुद्धता को परखने और प्रमाणित करने में सुपरवाइजरी चिंताओं को लेकर लिया गया है। IIFL फाइनेंस के लोन-टू वैल्यू रेशो में गड़बड़ियां पाई गई हैं। इसका स्पेशल ऑडिट भी होगा। आईआईएफएल फाइनेंस कई प्रकार के लोन और मॉर्गेज देता है। हालांकि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) का एक्शन केवल गोल्ड लोन को लेकर है। बाकी लोन पहले के अनुसार चलते रहेंगे। पिछले गोल्ड लोन पर भी इसका असर नहीं होगा, लेकिन अब नए गोल्ड लोन नहीं दिए जा सकेंगे।

की जाएगी समीक्षा

हालांकि इस कार्रवाई की समीक्षा भी की जाएगी। आरबीआई के अनुसार, एक विशेष ऑडिट के पूरा होने और आरबीआई निरीक्षण के निष्कर्षों को कंपनी की ओर से सुधारने के बाद इस कार्रवाई की समीक्षा की जाएगी। रिजर्व बैंक ने 31 मार्च, 2023 तक की वित्तीय स्थिति के अनुसार कंपनी का निरीक्षण किया था।

ग्राहकों के हितों पर प्रभाव

कंपनी के गोल्ड लोन पोर्टफोलियो में सुपरवाइजरी से रिलेटेड कुछ गड़बड़ियां देखी गई हैं। इसमें लोन की मंजूरी के समय और डिफॉल्ट पर नीलामी के समय सोने की शुद्धता और शुद्ध वजन को परखने और प्रमाणित करने में गंभीर खामियां शामिल हैं। आरबीआई के अनुसार, ये प्रक्रियाएं नियमों का उल्लंघन करने के साथ ही ग्राहकों के हितों पर भी प्रतिकूल प्रभाव डालती हैं। कंपनी के वरिष्ठ प्रबंधन से इस बारे में कई बार बात भी की जा चुकी है, हालांकि कोई असर और सुधार देखने को नहीं मिला। आरबीआई ने कहा- “इससे ग्राहकों के समग्र हित में प्रतिबंध लगाना जरूरी हो गया है।”

500 से ज्यादा शहरों में 2,600 से अधिक ब्रांच

आईआईएफएल भारत में फाइनेंस के क्षेत्र में अग्रणी कंपनी है। आईआईएफएल होम फाइनेंस, आईआईएफएल समस्ता फाइनेंस लिमिटेड और आईआईएफएल ओपन फिनटेक के साथ ये कई प्रकार के लोन और मॉर्गेज देती है। गोल्ड लोन के साथ ही होम लोन, बिजनेस लोन, माइक्रोफाइनेंस, डेवलपर और कंस्ट्रक्शन जैसे लोन शामिल हैं। आईआईएफएल की 500 से अधिक शहरों में 2,600 से ज्यादा ब्रांच हैं।

ये भी पढ़ें: Paytm के लाखों यूज़र्स को बड़ी राहत, 15 मार्च तक इस्तेमाल कर सकते हैं पेटीएम पेमेंट्स बैंक

स्टॉक पर पड़ सकता है असर

माना जा रहा है कि आरबीआई के इस फैसले से स्टॉक पर असर पड़ सकता है। एक साल में आईआईएफएल के स्टॉक का रिटर्न 34 परसेंट है। सोमवार को IIFL Finance का स्टॉक 3.35 फीसदी गिरा। यह 598.10 के स्तर पर बंद हुआ।

भी पढ़ें: RBI को बुजुर्गों पर भरोसा है युवाओं पर नहीं’, पेटीएम के खिलाफ एक्शन पर भड़के अश्नीर ग्रोवर

First published on: Mar 04, 2024 07:54 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

RBI

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version