TrendingUnion Budget 2024ind vs zimSuccess StoryAaj Ka RashifalAaj Ka MausamBigg Boss OTT 3

---विज्ञापन---

Microsoft को पीछे छोड़ यह बनी दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी, CEO ने मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ा

Nvidia Became Most Valuable Company : आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) बेस्ड चिप बनाने वाली एक कंपनी ने दुनिया की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट को पीछे छोड़ दिया है। यह कंपनी अब दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी बन गई है। कुछ समय पहले ही इस कंपनी ने एप्पल को पछाड़ दूसरे नंबर का स्थान हासिल किया था। इस कंपनी के सीईओ ने कमाई में भारत और एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी को भी पीछे छोड़ दिया है।

Edited By : Rajesh Bharti | Updated: Jun 19, 2024 09:59
Share :
Nvidia बनी दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी।

Nvidia Became Most Valuable Company : समय के साथ बदलाव जरूरी है। अगर बदलाव न हो तो समय उसे पीछे छोड़ देता है। ऐसा ही कुछ इन दिनों सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में चल रहा है। कभी कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की दुनिया में तहलका मचाने वाली कंपनी माइक्रोसॉफ्ट आज दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी नहीं रही। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) डिवाइस के लिए चिप बनाने वाली एक कंपनी ने माइक्रोसॉफ्ट को पीछे छोड़ दिया है। यह कंपनी अब दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी बन गई है। करीब दो हफ्ते पहले ही इसने एप्पल कंपनी को पीछे छोड़ दूसरा स्थान हासिल किया था। यही नहीं, इस कंपनी के सीईओ ने भारत और एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ दिया है।

इस कंपनी ने मचाया तहलका

चिप बनाने में इस समय अमेरिका की Nvidia कंपनी तहलका मचा रही है। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार Nvidia ने माइक्रोसॉफ्ट को पीछे छोड़ दिया है और यह दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी बन गई है। इस कंपनी का मार्केट कैप करीब 3.3 ट्रिलियन डॉलर (करीब 275 लाख करोड़ रुपये) हो गया है। करीब दो महीने पहले ही इस कंपनी ने साल 2002 से पहली बार आईफोन और दूसरी डिवाइस बनाने वाली कंपनी एप्पल को पीछे छोड़ा था।

क्या करती है कंपनी

अमेरिका की यह कंपनी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) बेस्ड सेमीकंडक्टर और GPU (Graphics Processing Unit) बनाती है। GPU का मतलब कंप्यूटर चिप से है। इसका इस्तेमाल कंप्यूटर से लेकर लैपटॉप, स्मार्टफोन, इलेक्ट्रिक व्हीकल, 2D और 3D एनिमेशन को डिस्प्ले करने आदि में किया जाता है। आम भाषा में इसे ग्राफिक्स कार्ड और वीडियो कार्ड भी कह देते हैं। इस समय इस चिप का ज्यादातर इस्तेमाल AI आधारित डिवाइस बनाने में किया जा रहा है। इस चिप की डिमांड दुनियाभर में बढ़ती जा रही है। यही कारण है कि कंपनी की कमाई लगातार बढ़ रही है।

शेयर मचा रहा धमाल

यह कंपनी अमेरिकी शेयर मार्केट में लिस्ट है। पिछले एक महीने में कंपनी के शेयर में 43 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वहीं एक साल में कंपनी के शेयर 209 फीसदी बढ़ गए हैं। कंपनी की ग्रोथ जिस तेजी से हुई है, उसके कारण ही कंपनी दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी बन पाई है। यह कंपनी अमेरिकी शेयर मार्केट में जनवरी 1999 में लिस्ट हुई थी। उस समय कंपनी के एक शेयर की कीमत 0.040 डॉलर (करीब 3.33 रुपये) थी। आज इसके एक शेयर की कीमत 135.58 डॉलर (करीब 11,300 रुपये) है। कंपनी में ग्रोथ अप्रैल 2020 से आनी शुरू हुई है। इसके बाद कंपनी की कमाई तेजी से बढ़ी है।

Nvidia कंपनी के सीईओ जेन्सेन हुआंग ने कमाई में मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ दिया है।

31 साल पहले बनी थी कंपनी, मुकेश अंबानी को छोड़ा पीछे

Nvidia कंपनी की स्थापना अमेरिका में अप्रैल 1993 में हुई थी। इसके फाउंडर जेन्सेन हुआंग और उनके दो साथी और थे। इस समय जेन्सेन हुआंग कंपनी के सीईओ हैं। जेन्सेन ने भारत और एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी को कमाई में पीछे छोड़ दिया है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स में मुकेश अंबानी 13वें स्थान पर हैं जबकि जेन्सेन 12वें स्थान पर पहुंच गए हैं। जेन्सेन की कमाई 119 बिलियन डॉलर (करीब 9.92 लाख करोड़ रुपये) हो गई है जबकि मुकेश अंबानी की कमाई 113 बिलियन डॉलर (करीब 9.42 लाख करोड़ रुपये) है।

यह भी पढ़ें : Success Story : पिता ने बेटी के पीरियड किए हैंडल तो खोल दी कंपनी, एक साल में 2 करोड़ पहुंचा बिजनेस

First published on: Jun 19, 2024 09:58 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें
Exit mobile version