Trendinglok sabha election 2024IPL 2024News24PrimeMahashivratri 2024WPL 2024

---विज्ञापन---

Market Closing Highlights : सेंसेक्स 700 से ज्यादा तो निफ्टी 20 हजार के ऊपर, डॉलर में आई गिरावट

Market Closing Highlights : बुधवार को भारतीय सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। अमेरिका में दरों में कटौती की संभावना पर फेड गवर्नर क्रिस्टोफर वालर की टिप्पणी के बाद आज सेंसेक्स 700 अंक से अधिक ऊपर रहा, वहीं निफ्टी भी 20,100 के करीब रही।

Edited By : Balraj Singh | Updated: Nov 29, 2023 16:57
Share :

त्याहौरी सीजन बीतने के बाद भारतीय सूचकांक में बढ़ोतरी देखी जा रही है। मार्च 2024 की शुरुआत में अमेरिका में दरों में कटौती की संभावना और इसके लेकर फेडरल रिजर्व के एक अधिकारी की नरम टिप्पणी के बावजूद बुधवार को भारतीय सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। आज सेंसेक्स 700 अंक से अधिक ऊपर रहा, वहीं निफ्टी भी 20,100 के करीब रहा। यह पिछले करीब सवा महीने से भी ज्यादा के अंतराल के बाद पहली बार उच्च स्तर पर रहा। इसी के साथ आज ज्यादातर यूरोपीय शेयर ऊंचे ही रहे।

मार्केट का हाल अब जरा विस्तार से जानें

फेड गवर्नर क्रिस्टोफर वालर द्वारा मुद्रास्फीति में कमी जारी रहने पर आने वाले महीनों में ब्याज दर कम करने की संभावना के बाद अमेरिका से अपने राजस्व का एक अहम हिस्सा कमाने वाली आईटी कंपनियां ऊपर की ओर बढ़ीं। डॉलर कजोर हुआ और ट्रेजरीज ने नवंबर में अपनी रैली को इस अनुमान के आधार पर बढ़ा दिया कि फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दी है और अगले साल नीति को आसान बनाने में सक्षम होगा। दरअसल, गवर्नर क्रिस्टोफर वालर ने कहा कि फेड स्वैप 2024 के अंत तक दर में 100 आधार अंकों से अधिक की कटौती की उम्मीद कर रहा है, क्योंकि बैंक मुद्रास्फीति को 2% के लक्ष्य तक पहुंचाने के लिए अच्छी स्थिति में है।

एशियाई कारोबार में जापान का बेंचमार्क निक्केई गिरा

आज बुधवार को यूरोपीय शेयर अधिकतर ऊंचे रहे। एशियाई कारोबार में जापान का बेंचमार्क निक्केई 225 0.3% गिरकर 33,321.22 पर बंद हुआ। ऑस्ट्रेलिया का S&P/ASX 200 0.3% बढ़कर 7,035.30 पर पहुंच गया। दक्षिण कोरिया का कोस्पी लगभग 0.1% गिरकर 2,519.81 पर आ गया। हांगकांग का हैंग सेंग 2.1% गिरकर 16,993.44 पर आ गया, जबकि शंघाई कंपोजिट 0.6% गिरकर 3,021.69 पर आ गया। बिटकॉइन का कारोबार $38,000 से ऊपर हुआ।

उधर, ठोस खुदरा डेटा और फेडरल रिजर्व अधिकारियों की आश्वस्त टिप्पणियों के कारण वॉल स्ट्रीट के शेयरों में मंगलवार को तेजी आई, जबकि तेल की कीमतें बढ़ीं और डॉलर में गिरावट आई। न्यूयॉर्क सहित दुनियाभर में इक्विटी ने हाल के हफ्तों में इस उम्मीद में मजबूत लाभ कमाया है कि अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने दरों में बढ़ोतरी नहीं की है और मुद्रास्फीति कम होने पर अगले साल उधार लेने की लागत में कटौती कर सकता है।

यह भी पढ़ें : फ्रॉड्स पर नकेल कसने के लिए भारत सरकार ने उठाया बड़ा कदम! 70 लाख सिम कार्ड किए बंद, जानिए पूरा मामला

सवा दो महीने में पहली बार 20 हजार से ऊपर रहा निफ्टी

इसके अलावा बुधवार को बैंकों, सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) और ऑटो शेयरों के नेतृत्व में घरेलू बेंचमार्क इक्विटी सूचकांक उच्च स्तर पर बंद हुए, जिसमें निफ्टी 20 सितंबर के बाद पहली बार 20,000 अंक से ऊपर रहा। आज सत्र के अंत में सेंसेक्स 727.71 अंक ऊपर 66,901.91 पर था, जबकि निफ्टी 206.90 अंक बढ़कर 20,096.60 पर बंद हुआ। निफ्टी पर हीरो मोटोकॉर्प, एमएंडएम, एक्सिस बैंक, विप्रो और टाटा मोटर्स शीर्ष लाभ पाने वालों में से थे, जबकि ओएनजीसी, नेस्ले इंडिया, आयशर मोटर्स, अदानी एंटरप्राइजेज और डिविस लैब सबसे बुरी तरह प्रभावित हुए।

पढ़ें सरकार की उन 3 योजनाओं के बारे में, जिनसे संवरेगा आपकी लाडली का भविष्य!

BSE ऑटो इंडेक्स अब के उच्च स्तर पर

जहां तक इसके पीछे की वजह की बात है, माना जा रहा है कि भारत के पीक फेस्टिवल सीजन के दौरान रिकॉर्ड वाहन बिक्री के बाद बीएसई ऑटो इंडेक्स बुधवार को 39,774.93 के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया। फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के अनुसार, इस साल त्योहारी अवधि में वाहन की बिक्री पिछले वर्ष की तुलना में 19% बढ़कर 37.93 लाख हो गई। इससे पहले मंगलवार को FADA ने 15 अक्टूबर (नवरात्रि के पहले दिन) से लेकर धनतेरस के 15 दिन बाद 26 नवंबर तक 42-दिवसीय उत्सव अवधि के लिए वाहन खुदरा डेटा जारी किया था।

First published on: Nov 29, 2023 04:57 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version