Friday, July 3, 2020

IIT दिल्ली ने एक बार फिर दुनिया को चौंकाया, बनाई सबसे सस्ती PPE किट

कोरोना की इस जंग में हर कोई अपने-अपने तरीके से योगदान दे रहा है। आईआईटी दिल्ली अपने नए-नए आविष्कारों के साथ सामने आ रहा है। इसी कड़ी में अब आईआईटी दिल्ली ने सबसे कम उपलब्ध होने वाली और महंगी मिलने वाली पीपीई किट बनाई है। जिसमें आसानी से इंसान सांस ले सकता है।

दिव्‍या अग्रवाल, नई दिल्‍ली: कोरोना की इस जंग में हर कोई अपने-अपने तरीके से योगदान दे रहा है। आईआईटी दिल्ली अपने नए-नए आविष्कारों के साथ सामने आ रहा है। इसी कड़ी में अब आईआईटी दिल्ली ने सबसे कम उपलब्ध होने वाली और महंगी मिलने वाली पीपीई किट बनाई है। जिसमें आसानी से  इंसान सांस ले सकता है।

किसके लिए जरूरी होगी ये किट

अभी तक कोरोना के संक्रमण से 3 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। वही इस संक्रमण से लोगों को ठीक करने वाले योद्धाओं पर भी संक्रमण का खतरा मौत की तरह मंडराता रहता है। ऐसे में आईआईटी दिल्ली के टेक्सटाइल हर फाइबर इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट ने पीपीई किट बनाई है जोकि यकीनन देशहित में होगी।

क्यों खास है ये किट

डिपार्टमेंट फिलहाल पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट यानी पीपीई जोकि पूरी तरीक़े से आपके शरीर को कवर करता है, जिसमे बॉडी सूट और शू भी आते है। उसे डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टाफ के लिए खासतौर पर तैयार किया है। इस किट को तैयार किया है डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉक्टर एसएम इश्तियाक और उनके ही स्टूडेंट डॉक्टर बिस्व रंजन दास जोकि  साइंटिस्ट व डीआरडीओ, कानपुर में असिस्टेंट डायरेक्टर है। इस टीम ने इस किट को स्वास्थ्य मंत्रालय के क्राइटेरिया के मुताबिक ही तैयार किया है। जोकि पीपीई का एक अग्रिम version है। सांस ले पाने की क्षमता और किट को मुलायम व पूरी तरीके से कवर करना, दो सबसे महत्वपुर्ण चैलेंज थे जिसपर आईआईटी दिल्ली में इस टीम ने बखूबी काम किया है।

कीमत भी है बेहद कम

इस किट को हल्का बनाने के लिए पॉलीस्टर woven फैब्रिक का इस्तेमाल किया गया है, जिससे इसका वजन मात्र 300 ग्राम ही रह गया जबकि कमर्शियल किट्स का वजन 400 से 500 ग्राम होता है। वही ये किट बैक्टीरिया रोधी भी है, जोकि दूसरी किट्स में नहीं है। वही स्पेशल ग्रेड पीयू कोटिंग की मदद से इस किट को बेहद मुलायम और सांस लेने में आरामदायक बनाया गया है। जबकि ये दोनों ही फीचर्स बाकी की किट्स में शामिल नहीं है। वही किट की बाहरी डिस्प्ले पानी और तेल से बचाव करती है। इस किट को 3 बार इस्तेमाल किया जा सकता है। सबसे जरूरी और अहम बात है इसकी कीमत, जोकि बेहद कम है। वैसे तो इसकी कीमत 900 से 1000 रुपये तक होगी, लेकिन चूंकि ये 3 बार इस्तेमाल हो सकती है तो इस लिहाज से इसकी कीमत हुई सिर्फ 300 रुपये। वहीं ये 4 साइज में आपको आसानी से मुहैया कराया जा सकता है।

रिसर्चर्स ने फिलहाल जीडी इनटेरनाशनल के साथ गठजोड़ किया है जोकि iso सर्टिफाइड कंपनी है, जिससे कि इस किट को जल्द से जल्द कोरोना के योद्धायों के लिए बनाया जा सके।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

MPBSE MP Board 10th result 2020: कल इस समय जारी होगा कक्षा 10वीं का रिजल्ट, mpbse.nic.in पर ऐसे करें चेक

MPBSE MP Board 10th result 2020: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) यानि एमपी बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों...

Trailer: वर्जिन भानुप्रिया का ट्रेलर आउट, अजीब बीमारी से जुझती दिखीं उर्वशी

मुंबई। लॉकडाउन में ज़िंदगी जैसे रुक सी गई थी, लेकिन अनलॉक 1 के लागू होने के बाद से ही हर किसी ने राहत की...

10वीं-12वीं पास के लिए निकलीं होमगार्ड में सिपाही की बंपर भर्ती, इस तारीक तक करें आवेदन

नई दिल्लीः कोरोना वायरस का कहर को देखते हुए सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन लागू कर रखा है, जिसके बाद अब थोड़ी-थोड़ी गतिविधियों को चलाने...

#KhesarilalYadav: ‘मउगी खेले पब्जी’ गाने में खेसारी लाल यादव इस अंदाज में कर रहे है फैंस को एंटरटेन !

मुंबई :भोजपुरी इंडस्ट्री के सबसे चर्चितऔर पसंदीदा स्टार हैं।आए दिन खेसारी के म्यूजिक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल रहते हैं।भोजपुरी दर्शको में खेसारी की...