ICICI बैंक का क्रेडिट कार्ड चलाने वाले हो जाएं सावधान! 20 अक्टूबर से शुरू हो रही एक नई सर्विस के लिए लगेगा 1% चार्ज

नई दिल्ली: आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) के भारत में 11 मिलियन से अधिक क्रेडिट कार्ड धारक हैं। अब एक ऐसा कदम उठाया जा रहा है, जिससे क्रेडिट कार्ड धारकों पर अतिरिक्त बोझ डल जाएगा। बैंक ने क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके किराए के भुगतान पर एक प्रतिशत का नया शुल्क लगाया है।

अभी पढ़ें US Federal Reserve: महंगाई पर काबू के लिए अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरों में फिर की भारी बढ़ोतरी

अपने ग्राहकों को भेजे गए एक संदेश में, बैंक ने कहा, ‘प्रिय ग्राहक, 20-अक्टूबर-22 से, किराए के भुगतान के लिए आपके आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड पर सभी लेनदेन पर 1% शुल्क लिया जाएगा।’ इसके साथ, आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके किराए के भुगतान पर शुल्क लगाने वाला पहला बैंक बन गया है।

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके किराए का भुगतान

रेड जिराफ, माईगेट, क्रेड, पेटीएम और मैजिकब्रिक्स जैसे विभिन्न प्लेटफॉर्म हैं जो उपयोगकर्ताओं (किरायेदारों) को अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके किराए का भुगतान करने की अनुमति देते हैं। हालांकि, वे इसके बदले एक निश्चित सेवा शुल्क लेते हैं।

सभी उपयोगकर्ताओं को प्लेटफॉर्म पर अपने क्रेडिट कार्ड को दर्ज करना होता है। फिर किराया भुगतान विकल्प पर जाएं और नाम, बैंक खाता संख्या, आईएफएससी कोड जैसे विवरण भरें या मकान मालिक का यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) पता जोड़ें। और फिर भुगतान कर दें।

अभी पढ़ें Stock Market Opening: लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में गिरावट, खुलते ही लुढ़का Sensex और Nifty

यह क्रेडिट कार्ड धारकों को कैसे प्रभावित करेगा?

मान लीजिए कि आप अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके प्रति माह 12,000 रुपये का किराया देते हैं, तो भुगतान की सुविधा देने वाला प्लेटफॉर्म भी आपसे 0.4 प्रतिशत से 2 प्रतिशत के बीच शुल्क लेता है। मान लें कि प्लेटफॉर्म आपसे लेन-देन के लिए 1 प्रतिशत शुल्क लेता है, इस प्रकार आपके क्रेडिट कार्ड से कटौती की जाने वाली राशि 12,120 रुपये होगी। अब, जब आपका बिल जनरेट होता है, तो आईसीआईसीआई बैंक लेनदेन पर अपना 1 प्रतिशत शुल्क (12,120 रुपये) लगाएगा, इस प्रकार आप बैंक को लगभग 12,241 रुपये का भुगतान करेंगे। इसका मतलब है कि एक प्रतिशत शुल्क इस मामले में आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड धारकों पर प्रति वर्ष लगभग 1,452 रुपये का अतिरिक्त बोझ डालेगा।

अभी पढ़ें – बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version