Tuesday, June 2, 2020

25 मई से चलने वाली घरेलू फ्लाइट के लिए सरकार ने फिक्स किया किराया

केंद्र सरकार ने हवाई किराये को रेग्युलेट करने का फैसला लिया है। उदाहरण के लिये दिल्ली से मुंबई के बीच न्यूनत्तम किराया 3500 रुपये और अधिकत्तम किराया 10,000 रुपये रहेगा। एयरलाइंस को विमान के कुल क्षमता का 40 फीसदी टिकट न्यूतनत्तम और अधिकत्तम किराये के बीच के रकम पर यानि 6700 रुपये में (दिल्ली-मुंबई रुट पर) में बेचना होगा।

मनीष कुमार, दिल्ली: 60 दिनों के लॉकडाउन के बाद 25 मई से देश में घरेलू विमान सेवा शुरु हो जाएगी। हालांकि अभी हर रुट्स में समर शेड्यूल क्षमता का केवल एक तिहाई ही उड़ानों को भरने की इजाजत दी गई है। नागरुक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने प्रेस कॉंफ्रेस में बताया कि अभी चरणबद्ध तरीके से घरेलू रुट्स पर हवाई उड़ान की इजाजत दी जा रही है। उन्होंने बताया कि घरेलु विमान सेवा के अनुभवों को देखने के बाद अतंराष्ट्रीय विमान सेवा को शुरु किया जाएगा।

केंद्र सरकार ने हवाई किराये को रेग्युलेट करने का फैसला लिया है। उदाहरण के लिये दिल्ली से मुंबई के बीच न्यूनत्तम किराया 3500 रुपये और अधिकत्तम किराया 10,000 रुपये रहेगा। एयरलाइंस को विमान के कुल क्षमता का 40 फीसदी टिकट न्यूतनत्तम और अधिकत्तम किराये के बीच के रकम पर यानि 6700 रुपये में (दिल्ली-मुंबई रुट पर) में बेचना होगा। नागरिक उड्डयन मंत्री ने कहा कि सरकार का मकसद है कि हवाई यात्रा अफोर्डेबल रहे। उन्होंने कहा कि घरेलू विमान सेवा के ये नये नियम और फिक्स किराया 24 अगस्त की रात तक लागू रहेगा।

हर हवाई रुट्स के किराये का लोअर और अपर बैंड फिक्स रहेगा। इसलिये देश के हवाई रुट्स को 7 सेक्शनों में बांटा गया है।

  • पहले सेक्शन में 40 मिनट का सफर।
  • दूसरे में 40 से 60 मिनट।
  • तीसरे में 60 मिनट से 90 मिनट का सफर।
  • चौथे में 90 से 120 मिनट।
  • पांचवें में 120 से 150 मिनट।
  • छठे में 2.5 घंटे से 3 घण्टे का सफर।
  • सातवें में 3 घण्टे से 3.5 घण्टे का सफर।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने साफ किया है कि हर रुट्स में केवल एक तिहाई ही विमान सेवा को शुरु करने की इजाजत दी जा रही है। हरदीप पुरी ने कहा कि पहले 5-6 दिनों का अनुभव देखेंगे। अगर कुछ कदम उठाना पड़ा तो हम उठाएंगे। अगर सब कुछ ठीक रहा तो 10 से 15 फीसदी फ्लाइट ऑपेरशन को और बढ़ाया जाएगा। उन्‍होंने साफ किया है कि विमान में बीच की सीट खाली नहीं रहेगी। बीच की सीट खाली रखते तो किराया बहुच महंगा हो जाता। फ्लाइटों में अगर बीच वाली सीट खाली भी रखते है तब भी सोशल डिस्टेंसिंग नहीं कि जा सकती है।  दुनियां में कही भी बीच की सीट खाली नहीं रखी जाती।

बहरहाल 25 मई से उड़ान भरने के लिये जब यात्री एयरपोर्ट जायेंगे तो कोई फिजिकल चेकिंग नहीं, बल्‍कि वेब चेंकिंग होगा। आरोग्य एप पर स्टेटस ग्रीन होगा तभी एयरपोर्ट में प्रवेश मिलेगा। आरोग्य सेतु एप है और आप दिखाते है कि ग्रीन आता है तो कोई मसला नहीं है। अगर किसी के पास किसी कारण से नहीं है यह एप नहीं है तो स्वघोषित (सेल्फ डिक्लेरेशन) फॉर्म भरना होगा और थर्मल स्क्रीनिंग की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

क्या भारत के नाम से हट जाएगा ‘इंडिया’? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

प्रभाकर मिश्रा, नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट आज उस याचिका पर सुनवाई करेगा जिसमें मांग की गई है कि संविधान संसोधन करके इंडिया शब्द हटा...

Aaj ka Rashifal 2 June 2020:  इन राशि वालों को आज रहना होगा सावधान वरना बिगड़ सकते हैं काम, जानें अपना राशिफल

Aaj ka Rashifal 2 June 2020: आज दिनांक 2 जून 2020 और दिन मंगलवार (Mangalwar ka Rashifal) है। आज का दिन सभी 12 राशियों...

‘CHAMPIONS’ से मजबूत होंगे छोटे उद्योग, रोजगार की लग जायेगी झड़ी!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में 20 लाख करोड़ के पैकेज और लोकल के लिए वोकल अभियान...

दिल्ली पुलिस ने किए ये बड़े बदलाव, अब चुटकी बजाते होंगे ये सारे काम!

राहुल प्रकाश, नई दिल्ली। दिल्ली के थानों में अब न रोजनामचा होगा, न चिक कटेगी, न फर्द बनेगी और न ही कागजों पर आमद...