TrendingUnion Budget 2024ind vs zimSuccess StoryAaj Ka RashifalAaj Ka MausamBigg Boss OTT 3

---विज्ञापन---

पायलट बनने का सपना देखने वालों के लिए अच्छी खबर, Air India खोलेगी फ्लाइंग स्कूल

Air India To Start Flying School In Maharashtra : पायलट बनने का सपना देखने वालों के लिए अच्छी खबर है। देश की प्रमुख एयरलाइंस कंपनी एयर इंडिया फ्लाइंग स्कूल शुरू करने जा रही है। यहां पर पायलट बनने की ट्रेनिंग दी जाएगी। इस स्कूल में साल में करीब 200 स्टूडेंट को ट्रेनिंग मिलेगी। इससे देश में पायलटों की कमी भी पूरी होगी।

Edited By : Rajesh Bharti | Updated: Jun 18, 2024 18:27
Share :

Air India To Start Flying School In Maharashtra : देश की प्रमुख एयरलाइंस कंपनी एयर इंडिया खुद का फ्लाइंग स्कूल शुरू करने जा रही है। यहां वह स्टूडेंट्स को पायलट बनने की ट्रेनिंग देगी। ऐसा करने वाली वह पहली एयरलाइंस होगी। कंपनी के इस कदम को पायलटों की होने आए दिन होने वाली हड़ताल से जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं इससे कंपनी देश में पायलटों की कमी भी पूरी कर पाएगी। एयरलाइंस कंपनी यह फ्लाइंग स्कूल महाराष्ट्र में शुरू करेगी। यहां वह सालाना करीब 200 स्टूडेंट को पायलट बनने की ट्रेनिंग देगी।

यह है कंपनी का प्लान

एयर इंडिया महाराष्ट्र के अमरावती में फ्लाइंग स्कूल खोलने जा रही है। यहां सालाना 180 लोगों को पायलट की ट्रेनिंग दी जाएगी। कंपनी का प्लान है कि यहां ट्रेनिंग देने के बाद तैयार हुए पायलटों को सीधे विमान उड़ाने की इजाजत मिल जाएगी। इसके लिए उन्हें किसी भी प्रकार के उड़ान के अनुभव की जरूरत नहीं पड़ेगी। हालांकि यहां एडमिशन के लिए स्टूडेंट को कठिन सिलेक्शन प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा। इसमें शैक्षणिक योग्यता और शारीरिक फिटनेस के साथ पर्सनल इंटरव्यू को भी शामिल किया जाएगा।

Air India शुरू करेगी फ्लाइंग स्कूल।

34 विमानों का होगा इस्तेमाल

कंपनी ट्रेनिंग के लिए 34 विमान खरीद रही है। इसमें 30 सिंगल इंजन और 4 मल्टी इंजन विमान शामिल हैं। कंपनी इन विमानों को अमेरिकी कंपनी पाइपर और यूराेपियन कंपनी डायमंड से खरीद रही है। इस फ्लाइंग स्कूल से निकले सफल पायलट न केवल एयर इंडिया में बल्कि वैश्विक स्तर पर अन्य एयरलाइंस कंपनियों में भी करियर बनाने के लिए अच्छी तरह से तैयार होंगे।

सरकार भी कर रही प्रोत्साहित

इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक केंद्र सरकार भी देश में कमर्शियल पायलट ट्रेनिंग कराने को लेकर प्रोत्साहित कर रही है। अभी 40 फीसदी से ज्यादा लोग देश के बाहर पायलट की ट्रेनिंग ले रहे हैं। इसमें एक स्टूडेंट को 1.5 से 2 करोड़ रुपये चुकाने पड़ रहे हैं। अगर देश में ही पायलटों की ट्रेनिंग को बढ़ावा दिया जाए तो विदेश में ट्रेनिंग लेने जाने वाले लोगों की संख्या में कमी आ जाएगी।

देश में बढ़ेगी पायलटों की मांग 

देश में इन दिनों पायटलों की काफी कमी है। वहीं जब क्वॉलिटी ऑफ ट्रेनिंग की बात आती है तो देश में अभी भी इसकी कमी दिखाई देती है। शायद यही कारण है कि पायलट बनने के इच्छुक स्टूडेंट विदेश का रुख करते हैं। वहीं दूसरी ओर आने वाले दिनों में देश में पायलटों की मांग बढ़ने वाली है। इंडिगो ने 956, एयर इंडिया ने 458 और अकासा एयरलाइन ने 204 प्लेन का ऑर्डर दे रखा है। ऐसे में आने वाले दिनों में देश में पायलटों की मांग बढ़ेगी। एयर इंडिया अगर क्वॉलिटी ट्रेनिंग देती है तो स्टूडेंट को ट्रेनिंग के लिए देश से बाहर नहीं जाना होगा और देश में पायलटों की कमी भी पूरी होगी।

यह भी पढ़ें : नए ऑफिस में बुलाने के लिए कर्मचारियों को 8 लाख रुपये का ‘बोनस’ दे रही यह IT कंपनी

First published on: Jun 18, 2024 06:27 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें
Exit mobile version