चिप की कमी के चलते Toyota को रोकना पड़ा प्रोडक्शन, हुआ बड़ा नुकसान

Toyota Corolla

नई दिल्ली: जापानी वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा मोटर्स (Toyota Motors) ने घोषणा की है कि चिप की कमी के संकट और कोविड-19 के कारण कई प्लांट्स पर वाहनों के उत्पादन कार्य को रोकने का निर्णय लिया गया है।

टोयोटा ने आज एक बयान जारी कर कहा कि वह अपने वार्षिक उत्पादन लक्ष्य में 300,000 वाहनों की कटौती करेगी।

निर्णय से प्रभावित वैश्विक उत्पादन मात्रा सितंबर के लिए लगभग 70,000 इकाइयां (विदेश में 40,000 इकाइयां और जापान में 30,000 इकाइयां) और अक्टूबर के लिए 3,30,000 इकाइयां (विदेश में 1,80,000 इकाइयां और जापान में 1,50,000 इकाइयां) होंगी।

अभी तक, टोयोटा ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि भारत में बिदादी (कर्नाटक) में स्थित इसकी उत्पादन सुविधा इस निर्णय के कारण प्रभावित होगी या नहीं। टोयोटा भारत में इनोवा क्रिस्टा, फॉर्च्यूनर, अर्बन क्रूजर, ग्लैंजा, यारिस, कैमरी और वेलफायर बेचती है – ये सभी गाड़ियां यहीं तैयार की जाती हैं।

बता दें कि इससे पहले और भी कई वाहन निर्माता कंपनियों को चिप की कमी की चलते अपने उत्पादों के निर्माण में कटौती करनी पड़ी है।


संबंधित खबरें


देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .