सामने आ गई Skoda Slavia के केबिन की इमेज, जानें किन खूबियों से लैस है कार

Skoda Slavia Cabin

नई दिल्ली: चेक गणराज्य की वाहन निर्माता कंपनी स्कोडा (Skoda) भारत में अपनी सेडान स्लाविया (Skoda Slavia) की लॉन्चिंग की तैयारियों में जोर-शोर से जुटी है। कंपनी ने मंगलवार को स्लाविया केबिन के डिजाइन स्केच को जारी किया। लॉन्चिंग के बाद स्लाविया मारुति सुजुकी सियाज़ (Maruti Suzuki Ciaz), हुंडई वर्ना (Hyundai Verna) और होंडा सिटी (Honda City) को टक्कर देगी।

स्लाविया के केबिन का डिज़ाइन स्केच मुख्य एसी वेंट्स के ठीक ऊपर सेंटर डिस्प्ले स्क्रीन के साथ एक लिक्विड होरीजेंटल डैशबोर्ड लेआउट दिखाता है। दोनों तरफ सर्कुलर एसी वेंट्स हैं, जबकि पियानो ब्लैक फिनिश में कार की लक्जरी फील को बढ़ाने का काम करती है।

कार की सेंट्रल यूनिट पर मोबाइल फोन के लिए एक स्टोरेज स्पेस भी दिखाई देता है, जिसमें वायरलेस चार्जिंग ऑप्शन मिल सकता है। सेंट्रल लेआउट पर कई कप होल्डर भी दिखाई दे रहे हैं। स्टीयरिंग व्हील को फ्लैट बॉटम नहीं दिया गया है, जो पहले कुशाक जैसी सिबलिंग कारों में देखा गया है।

इसके अलावा, केबिन के चारों ओर, अंदर के दरवाज़े के हैंडल की तरह एडिशनल क्रोम भी मिल सकता है।
स्कोडा ने पहले भी इमेजेस में स्लाविया के आउटर डिजाइन स्केच का खुलासा किया था, जिसमें एल-आकार के एलईडी डीआरएल (DRL) के साथ एलईडी हेडलाइट यूनिट्स के साथ एक स्पेशल स्कोडा हेक्सागोनल ग्रिल दिखाई गई थी।

स्लाविया की प्रोफाइल में विंडो लाइन के साथ-साथ साइड स्कर्ट पर चलने वाली कैरेक्टर लाइन्स मिलेंगी। कार में मिक्स मेटल के व्हील्स भी न्यू लुक देते हैं।

स्लाविया भारतीय बाजार में रैपिड की जगह लेगी, हालांकि ये कार रैपिड से अधिक प्रीमियम पेशकश के रूप नज़र आएगी। स्कोडा ने यह भी पुष्टि की है कि स्लाविया के लिए बुकिंग वर्ष के अंत तक खोली जाएगी, जिसकी डिलीवरी 2022 की पहली तिमाही के लिए होगी। कार को ऑफिशियली फरवरी में लॉन्च किया जा सकता है। जबकि इस कार से 18 नवंबर को पर्दा हटेगा।

स्लाविया 4,541 मिमी लंबी, 1,752 मिमी चौड़ी और 1,487 मिमी लंबी होगी। इस तरह ये कार मारुति सुजुकी सियाज, हुंडई वर्ना और स्कोडा रैपिड से क्रमशः 51 मिमी, 101 मिमी और 128 मिमी लंबी है। सेगमेंट बेस्ट-सेलर – होंडा सिटी की तुलना में, स्लाविया सिर्फ 12 मिमी छोटी है। फिर भी, यह सबसे चौड़ी और सबसे ऊंची कार साबित होगी। स्लाविया का व्हीलबेस 2,651 मिमी है, जो स्कोडा रैपिड, होंडा सिटी, हुंडई वर्ना और मारुति सुजुकी सियाज़ से लंबा है।

नाम के पीछे है दिलचस्प कहानी

‘स्लाविया’ नाम के पीछे एक दिलचस्प कहानी है। दरअसल ये उस पहली साइकिल का नाम था जिसे 1896 में कंपनी के संस्थापकों ने तैयार किया था। ये कार भारत के लिए कंपनी की 2.0 रणनीति के तहत उतारा गया दूसरा कोडा मॉडल है।

रैपिड की तुलना में स्लाविया साइज़ में थोड़ी बड़ी हो सकती है। साथ ही इस कार में कई आकर्षक खूबियां देखने को मिल सकती हैं। हालांक संभावना जताई जा रही है कि इस कार में मिलने वाले फीचर्स में कुछ Kushaq SUV से उधार लिए जा सकते हैं। बताया जा रहा है कि इस कार को कुशाक वाले MQB-A0-IN प्लेटफॉर्म  पर ही तैयार किया जाएगा। साथ ही इसके बोनट हुड के नीचे दो टर्बो पेट्रोल इंजन विकल्प के तौर पर मिल सकते हैं।

भारत में स्लाविया को लॉन्च करना स्कोडा के लिए एक साहसिक कदम माना जा रहा है। क्योंकि यहां सेडान सेगमेंट की बिक्री में गिरावट आई है। इसी के चलते टोयोटा ने हाल ही में अपनी सेडान यारिस को बंद कर दिया था। वहीं सियाज़, वर्ना और सिटी जैसी अन्य कारें भी पहले जैसा प्रदर्शन नहीं कर पा रही हैं।


संबंधित खबरें


देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .