Hyundai जल्द लॉन्च करेगी ताबड़तोड़ दस Electric कारें, जानें विस्तार से

Hyundai

नई दिल्ली: दुनियाभर में पेट्रोल-डीजल जैसे पारंपरिक ईंधन की बजाय वैकल्पिक ईंधन पर आश्रित होने की कवायद पर तेजी से काम जारी है। यही कारण है कि ऑटो सेक्टर की अधिकतर कंपनियां इलेक्ट्रिक वाहनों को तैयार करने में जुटी हैं। इसी क्रम में  हुंडई ने दुनिया भर में इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में बड़ी भूमिका निभाने के अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं।

ऐसे में कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि हुंडई की 2022 के अंत तक 10 नए इलेक्ट्रिक वाहनों को लॉन्च कर सकती है। बताया जा रहा है कि ये सभी वाहन अमेरिका में उतारे जाएंगे।

Hyundai Motor Group ने पहले ही अमेरिका में EVs के निर्माण के लिए $7.5 बिलियन के निवेश की पुष्टि की थी और यह निवेश 2025 तक किया जाएगा। Hyundai ने अगले साल देश में EVs का निर्माण शुरू करने की योजना बनाई है। कंपनी ने पुष्टि की है कि वह यहां ग्राहकों के लिए सात इलेक्ट्रिक एसयूवी और अन्य तीन इलेक्ट्रिक कार मॉडल पेश करेगी।

https://twitter.com/Hyundai/status/1412863998282895361?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1412863998282895361%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_c10&ref_url=https%3A%2F%2Fpublish.twitter.com%2F%3Fquery%3Dhttps3A2F2Ftwitter.com2FHyundai2Fstatus2F1412863998282895361widget%3DTweet

हुंडई के ग्रीन वाहनों में से तीन कारें- 2022 कोना इलेक्ट्रिक, सांता फे प्लग-इन हाइब्रिड और इओनीक-5 EV एसयूवी होंगी। जहां नई कोना और सांता फ़े के कुछ महीनों के भीतर लॉन्च होने की उम्मीद है, वहीं Ioniq 5 EV इस साल के कुछ समय बाद बाजार में आएगी।

गौरतलब है कि कई वाहन निर्माता अमेरिकी बाजार में अपने इलेक्ट्रिक वाहनों को लाने के प्रयास में जुटे हैं। लेकिन इसके बावजूद Elon Musk की कंपनी टेस्ला को चुनौती देने लायक स्थिति में इनमें से कोई भी नहीं बन पाई है। ऐसे में ग्रीन व्हीकल्स लाने की Hyundai की घोषणा के बाद माना जा रहा है कि टेस्ला को इस दक्षिण कोरियाई कंपनी की तरफ से एक मजबूत चुनौती का सामना करना पड़ सकता है।

इलेक्ट्रिक वाहनों की बात करें तो अमेरिका प्रमुख बाजारों में से एक है। हुंडई का लक्ष्य उस सेगमेंट में पर्याप्त बाजार हिस्सेदारी हासिल करना है। वर्तमान में, दक्षिण कोरियाई ऑटोमोबाइल दिग्गज अमेरिकी बाजार में Kona, Nexo HFCV, Ioniq जैसे EV बेचती है। इसके अलावा, यह कई हाइब्रिड और प्लग-इन हाइब्रिड मॉडल भी बेचती है।

वहीं वैश्विक कंपनियों की निगाहें भारत की तरफ भी हैं। क्योंकि वैश्विक इलेक्ट्रिक कार बाजार में भारत की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है।


संबंधित खबरें


देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक , टेलीग्राम , गूगल न्यूज़ .