Tuesday, June 2, 2020

Shani Jayanti 2020: शनि देव के कारण अब इनकी होगी तरक्की, अपनी राशि अनुसार करें ये उपाय

Shani Jayanti 2020: इस बार शनि जयंती खास है, क्योंकि इस दिन शनि अपनी ही राशि यानी मकर में है। साल की शुरुआत में शनि मकर राशि में आ गया है। जो कि अप्रैल 2022 तक इसी राशि में रहेगा। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार शनि के शुभ प्रभाव से कुछ राशियों को लाभ हो सकता है।

मदन गुप्ता सपाटूज्योतिर्विद्नई दिल्ली: ज्येष्ठ मास की अमावस्या आज है। धार्मिक मान्यता के मुताबिक ज्येष्ठ अमावस्या को न्यायप्रिय ग्रह शनि देव का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिवस को शनि जयंती के रूप में मनाया जाता है। शनि दोष से बचने के लिये इस दिन शनिदोष निवारण के उपाय भी किए जाते हैं। इस दिन शनिदेव की पूजा की जाती है। विशेषकर शनि की साढ़े साती, शनि की ढ़ैय्या आदि शनि दोष से पीड़ित जातकों के लिये इस दिन का महत्व बहुत अधिक माना जाता है।

इस बार शनि जयंती खास है, क्योंकि इस दिन शनि अपनी ही राशि यानी मकर में है। साल की शुरुआत में शनि मकर राशि में आ गया है। जो कि अप्रैल 2022 तक इसी राशि में रहेगा। इस महीने शनि 10 मई को वक्री हो गया है जो कि  29 सितंबर तक इसी स्थिति में रहेगा। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार शनि के शुभ प्रभाव से कुछ राशियों को लाभ हो सकता है।

चंद्र राशि के अनुसार शनि का आप पर कैेसा रहेगा प्रभाव ?

मेष राशि (Aries)

मेष राशि में शनि दशम और एकादश भाव का स्वामी हो कर राशि से दशम भाव यानि कर्म भाव में ही गोचर करेगा। इस गोचर में आपकी मेहनत और संघर्ष बहुत बढ़ जाएगा। शनि के वक्री होने की वज़ह से नये काम में रुकावट आ सकती हैं और जिस लाभ की आशा कर रहे थे वह भी समय से नही मिल पाएगा। घर से जुड़े किसी कार्य में धन का खर्च हो सकता है ।

उपाय: महाराज दशरथ कृत नील शनि स्तोत्र का पाठ करने के अलावा शनिवार को शाम के समय पीपल वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का दीपक रखें।

वृषभ राशि (Taurus)

शनि का भाग्य स्थान में गोचर होने से पिता के साथ कुछ मतभेद हो सकता है। आपको उनकी सेहत का भी ध्यान रखना चाहिए। कार्य-स्थल में मेहनत अधिक होने के बाद लाभ के आसार कम नज़र आ रहे हैं। सब्र और धैर्य से ही काम करें तो बेहतर रहेगा। प्रमोशन के बारे सोच रहे हैं तो ये शनि का गोचर अभी और इंतज़ार करवायेगा।

उपाय: शनि मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि (Gemini)

अष्टम भाव में शनि का प्रभाव होने से अचानक ही परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं। आर्थिक स्थिति भी कुछ कमजोर नज़र आ रही है और धन से जुड़े कार्य में भी ये शनि आय व लाभ में कमी करेगा। शनि के आपकी राशि से अष्टम भाव में गोचर करने से कभी–कभी खुद को भ्रमित सा महसूस करोगे। अगर किसी महत्वपूर्ण निर्णय लेते समय ऐसा हो तो किसी सीनियर की सलाह लें या कुछ समय के लिए टाल दें तो बेहतर रहेगा।

उपाय: शनिवार या फिर शनि प्रदोष का व्रत रखें। साथ ही शनिवार के दिन काले कपड़े पहनने से बचें।

कर्क राशि (Cancer)

कर्क राशि में शनि सप्तम और अष्टम भाव का स्वामी हो कर आपकी राशि से सप्तम भाव यानि विवाह भाव में ही गोचर करेंगे। किसी महिला मित्र की वज़ह से आपको फायदा होगा। आलस को अपने से दूर ही रखें क्योंकि आलसी लोगों को शनि शुभ फल नही देते हैं। अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें , बीमारी परेशान कर सकती है। किसी से वाद-विवाद भी हो सकता हैं जिसको सुलझाने में आपका धन खर्च हो सकता है, सावधान रहने की जरुरत है।

उपाय: हर शनिवार को सरसों का तेल किसी लोहे या मिट्टी के बर्तन में भरकर उसमें अपनी शक्ल देखकर छाया पात्र दान करें।

सिंह राशि (Leo)

किसी ज़मीन में निवेश करने की सोच रहे हैं तो बहुत ही सोच समझ कर करें, नहीं तो वर्ष के मध्य में आपके साथ धोखा हो सकता है। किसी अच्छे पद की चाहत में जल्दबाज़ी न करें। स्वास्थ्य से जुड़ी समस्यायें दिखाई दे रही हैं। किसी पुरानी बीमारी की वज़ह से मानसिक तनाव बना रहेगा।

उपाय: शनिवार के दिन साबुत काली उड़द का दान करने के अलावा पीपल वृक्ष के नीचे तिल के तेल का दीपक शाम को जलाएं।

कन्या राशि (Virgo)

रुकी हुई शिक्षा को दोबारा शुरु कर सकते हैं या किसी शोध में भी खोज कर सकते हैं। शनि की स्थिति आपकी सोच को गंभीर बना देगी, जिससे आप बहुत ही गहराई में जा कर कोई महत्वपूर्ण निर्णय ले सकते हैं। आभूषण भी ख़रीद सकते हैं। वाहन और घर से जुड़े खर्चे के लिए साल के मध्य का समय बेहतर नही है।

उपाय: आपको शनि प्रदोष का व्रत रखें।

तुला राशि (Libra)

व्यापार में शनि नये अवसर देगा, लेकिन किसी तरह का अहम आपके लिए नुकसान का कारण भी बन सकता है। किसी के कहने से कोई बड़ा निवेश न करें और न ही वर्ष के मध्य में भूमि में निवेश के बारे में सोचें। शनि के वक्री होने से माता से भी किसी तरह का मतभेद बना रहेगा। क्योंकि इस वज़ह से आपको मानसिक रुप से भी कष्ट का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय: किसी जानकार की सलाह पर रत्न धारण करें।

वृश्चिक राशि (Scorpio)

कोई नया काम करने की सोच रहे हैं तो यह समय कार्य के लिए बेहतर रहेगा। आर्थिक स्थिति भी सामान्य बनी रहेगी और कार्य में आर्थिक स्थिति को लेकर कोई रुकावट नहीं आएगी। माता से किसी बात को लेकर वाद-विवाद हो सकता है। किसी मित्र की सहायता से आपके रुके काम सुचारु रुप से बनने लगेंगे लेकिन उसी मित्र के साथ किसी नये काम की शुरुआत न करें।

उपाय: शनिवार के दिन चीटियों को आटा डालें।

धनु  राशि (Sagittarius)

धनु राशि में शनि दूसरे और तृतीय भाव का स्वामी हो कर आपकी राशि से दूसरे भाव यानि संपत्ति भाव में गोचर करेगा। कोई भी नया कार्य पूरी तरह से ध्यान लगा कर ही शुरु करें, तभी यह शनि आपको सफलता दिलाएगा। शनि की साढ़े-साती का आखिरी चरण होने से ये शनि जाते जाते आपको सोने की तरह तपाकर उजला बना देगा।आपका कोई काम नही रुकेगा। ज़मीन से जुड़ा कोई फायदा ये शनि आपको दे सकता है।

उपाय: आपको शनिवार के दिन किसी काले कपड़े अथवा काले धागे में धतूरे की जड़ धारण करें।

मकर राशि (Capricorn)

इस गोचर से मानसिक परेशानी तो बनी रहेगी पर शनि के अपनी ही राशि में गोचर करने से इस मानसिक तनाव से लड़ने की प्रेरणा भी यही शनि ही देगा। इस गोचर से आपकी निर्णय शक्ति में संतुलन और गहराई आएगी और आपको अपनी नई मंज़िल मिलेंगी। आर्थिक स्थिति में भी लाभ बना रहेगा।

उपाय: शनिदेव की आराधना भी करें।

कुंभ राशि (Aquarius)

कुम्भ राशि में शनि बारहवें और प्रथम भाव का स्वामी हो कर इस समय शनि आपकी राशि से बारहवें भाव यानि व्यय भाव में गोचर करेगा। जिससे आपकी राशि में संघर्ष व मेहनत बढ़ जाएगी और आपको अपनी जिंदगी की हकीक़त पता चलेगी। इस समय में आपके अपने दूर जाने लगेंगे और कुछ ऐसे रिश्ते करीब आएंगे, जिसके बारे में आपने कभी सोचा भी नहीं था।नौकरी को बदलने के लिए समय बेहतर नही है।

उपाय: शनि देव के बीज मंत्र ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः’ का जाप करें।

मीन राशि (Pisces)

आलस को अपने पर हावी न होने दें नहीं तो बहुत ही महत्वपूर्ण अवसरों से वंचित रह जाओगे। व्यापार से जुड़े बहुत से नये अवसर आएंगे और आपको आगे बढ़ने का का मौका मिलेगा। आप कुछ नया कर दिखाओगे। समाज में भी आपकी नई पहचान बनेगी। सेहत के हिसाब से यह गोचर बेहतर रहेगा। आपकी आर्थिक स्थिति में भी आपके माता पिता आपकी मदद करेंंगे।

उपाय: आपको शनिवार के दिन शुभ शनि यंत्र की पूजा करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

महाराष्ट्र और गुजरात पर बढ़ा चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ का खतरा, NDRF की कई टीमें तैनात

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच देश पर एक नया खतरा मंडरा रहा है। बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान अम्फान की तबाही के...

क्या भारत के नाम से हट जाएगा ‘इंडिया’? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

प्रभाकर मिश्रा, नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट आज उस याचिका पर सुनवाई करेगा जिसमें मांग की गई है कि संविधान संसोधन करके इंडिया शब्द हटा...

Aaj ka Rashifal 2 June 2020:  इन राशि वालों को आज रहना होगा सावधान वरना बिगड़ सकते हैं काम, जानें अपना राशिफल

Aaj ka Rashifal 2 June 2020: आज दिनांक 2 जून 2020 और दिन मंगलवार (Mangalwar ka Rashifal) है। आज का दिन सभी 12 राशियों...

‘CHAMPIONS’ से मजबूत होंगे छोटे उद्योग, रोजगार की लग जायेगी झड़ी!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में 20 लाख करोड़ के पैकेज और लोकल के लिए वोकल अभियान...