News24 Hindi

कार्तिक पूर्णिमा पर अपनी राशि अनुसार करें ये उपाय, हो जाएंगे धनवान, रोग होंगे दूर

Kartik Purnima 2023 Zodiac Sign Upay Dan Puja Vidhi

Kartik Purnima 2023 Upay Dan: कार्तिक पूर्णिमा का दिन बेहद शुभ और पावन माना जाता है। इस दिन गंगा स्नान के साथ ही मां लक्ष्मी और विष्णु जी की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी और विष्णु जी की पूजा करने से रोग दूर होते हैं और घर धन धान्य से परिपूर्ण हो जाता है। इस दिन मां लक्ष्मी प्रसन्न होकर अपने भक्तों को मनचाहा फल देती हैं, लेकिन इसके लिए कुछ उपाय भी हैं। आइए जानते हैं कि अपनी राशि के अनुसार जातक किस तरह के उपाय कर सकते हैं…

मेष राशि 

सूर्य को ऊं ब्रह्मस्वरूपे सूर्यनारायणाय नम: मंत्र पढ़कर अर्घ्य दीजिए। जहां मछलियां रहती हों, वहां एक मुठ्ठी चावल डाल दीजिए। किसी शिवालय में जाकर विधिवत शिव का पूजन अभिषेक कीजिए। नमामीशमीशान निर्वाण रूपं, विभुं व्यापकं ब्रह्म वेदः स्वरूपम्‌ मंत्र का जाप कीजिए। जातक लाल चंदन, गेहूं और गुड़ का दान जरूर करें। कार्तिक पूर्णिमा से नया काम शुरू करना और निवेश करना शुभ होगा। कमल के फूल भी अष्ट लक्ष्मी के समक्ष अर्पि​त करें।

वृषभ राशि

इस राशि के जातक मंदिर में गाय और दही का दान करें। जरूरतमंद व्यक्ति को चावल, घी, दही या सफेद चंदन का दान करें। गर्म कपड़े और कंबल साधु संन्यासियों को दान करना चाहिए। गंगाजल पानी में मिलाकर पूर्व की ओर स्नान करें। स्नान कर सफेद वस्त्र धारण करें। इसके बाद विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें। साथ ही पीपल के पेड़ की पूजा करें। मां लक्ष्मी को लौंग अर्पित करें।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातक स्नान कर स्वच्छ वस्त्र पहनें। वे सूर्य की पूजा करें और दूध, हरा कपड़ा, कपूर और चावल का दान करें। यदि संभव हो तो किसी ब्राह्मण जोड़े को अपने घर बुलाकर भोजन कराएं। गंगा स्तुति करने से भी लाभ मिलेगा।

पानी में हल्दी मिलाकर मुख्य द्वार पर छिड़कें। पीपल के पेड़ में जल चढ़ाएं। हनुमान जी की पूजा करें। कार्तिक पूर्णिमा से मिथुन राशि के जातकों के जीवन में कुछ सकारात्मक बदलाव आने के संकेत दिखाई दे रहे हैं। सप्तधान्य मिलाकर गौशाला में भी दान करें।

कर्क राशि

कर्क राशि के जातकों का राशि स्वामी चंद्रमा है। आपको स्नान कर नेत्रहीन लोगों को भोजन कराना चाहिए। शंख, चीनी या चावल का दान करें। मां लक्ष्मी को लाल गुलाब के फूलों की माला अर्पित करने के साथ ही श्रीयंत्र की विधिवत पूजा करें। क्रोध पर नियंत्रण करने के साथ ही बासी भोजन बिलकुल भी न करें। ना ही दान करें। चांदी के कटोरे में मां लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों को सोना, तांबा, गुड़ का दान करना चाहिए। भगवान शिव और गौरी की पूजा करें। खीर बनाकर मां लक्ष्मी को चंद्रोदय के समय भोग लगाएं। छोटी छोटी बातों पर क्लेश करने से बचें। श्रीमद्भगवद्गीता रखकर कम से कम 11 बार ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम: मंत्र का जाप करें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। दीपों का दान करें। सोना, तांबा, गुड़ का दान करना चाहिए।

कन्या राशि

कन्याओं को पंचमेवे की खीर खिलाएं। माथे पर तिलक लगाएं और दक्षिणा दें। किताबों और चादर का दान करेंं किसी गरीब महिला को भोजन कराएं। आम के पत्तों का तोरण अपने मुख्य द्वार पर लगाएं। तीखा और मसालेदार भोजन खाने से बचें। आटे का चूरमा बनाकर भगवान विष्णु को भोग लगाएं। घर या मंदिर में तुलसी का पौधा लगाना चाहिए।

तुला राशि

मंदिरों में दूध, चावल और शुद्ध घी का दान करें। किसी कन्या को भोजन कराएं। इस दौरान आप हाथ जोड़कर स्तुति में खड़े रहें। घर में कौड़ियां लाकर अपनी तिजोरी में रखें। शिवलिंग पर शहद कच्चा दूध और बेलपत्र चढ़ाएं। 11 चावल लक्ष्मी मंत्रों का जाप करते हुए मां लक्ष्मी को अर्पित करें। कई अच्छे अवसर प्राप्त होंगे।

ये भी पढ़ें: Aaj Ka Rashifal: कार्तिक पूर्णिमा पर खुशियों से भर जाएगी झोली, पढ़ें आज का राशिफल

वृश्चिक राशि

आपकी राशि में सूर्य, मंगल, बुध की युति है। कन्याओं को दूध, तिल का तेल, कंबल और चांदी का दान करें। हो सके तो नीले काले कपड़े ना पहनें। मां लक्ष्मी और विष्णु जी की पूजा कर श्री सूक्त का पाठ करें। चंद्रमा को कच्चा दूध और चावल मिलाकर अर्पित करें। नशे और तामसिक भोजन से दूर रहें। घर में श्रीमद्भगवद्गीता के किसी अध्याय का पाठ करें।

धनु राशि

आपका राशि स्वामी बृहस्पति इस समय मेष राशि में गोचर कर रहा है। कार्तिक पूर्णिमा आपके लिए कुछ विशेष लेकर आई है। आप अपने घर में गायत्री मंत्र का जाप करें। हल्दी की गांठ, सोना और धार्मिक पुस्तकें दान करें। सुख समृद्धि के लिए विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें। आप इससे पाप ताप से मुक्त रहेंगे। मां लक्ष्मी की प्रतिमा पर 11 कौड़ियां चढ़ाने से लाभ होगा। मंदिर में इत्र, नारियल पर स्वास्तिक लिखकर चढ़ाएं। गुलाब जल में चंदन मिलाकर भगवान विष्णु का तिलक करें। नया या पैसों से जुड़ा कोई भी काम शुरू कर सकते हैं। मां लक्ष्मी और श्री विष्णु को खिला हुआ फूल अर्पित करें।

मकर राशि

एक मुट्ठी चावल दूध में भिगोकर ऐसी जगह प्रवाहित करें जहां ज्यादा से ज्यादा मछलियां रहती हों। लक्ष्मी मंदिर में गुलाब के फूल वाली धूप अर्पित करें। चंद्रोदय के समय चंद्रमा को दूध से अर्घ्य दीजिए। श्रीयंत्र की पूजा कीजिए। किसी विशेष कामना को करने के लिए श्रीयंत्र को हाथ में रखकर पांच बार बोलें हे यंत्रराज मेरी मनोकामना पूर्ण करें। पीपल के पेड़ की जड़ में जल अर्पित करें। कार्तिक पूर्णिमा पर आपको अच्छी खबर मिलने की उम्मीद है। तुलसी पर दीपक जलाकर विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें। राम रक्षास्तोत्र का पाठ करें।

ये भी पढ़ें: Kartik Purnima 2023: कार्तिक पूर्णिमा पर इस तरह करें महालक्ष्मी जी की पूजा, हो जाएंगे मालामाल

कुंभ राशि

शनिदेव स्वयं विचरण कर रहे हैं। नेत्रहीन लोगों को भोजन कराएं। कार्यक्षेत्र में दक्षिणावर्ती शंख स्थापित करें। चंद्रमा को अखंडित चावल से अर्घ्य दें। खीर में केसर डालकर भगवान विष्णु को भाग लगाएं।

मीन राशि

ब्राह्मणों को सत्कार से बुलाकर भोजन कराएं। केसर मिश्रित दूध से भगवान विष्णु का अभिषेक करें। पीपल के पेड़ में कच्चा दूध और पानी मिलाकर स​मर्पित करें। भगवान विष्णु को गोपीचंदन अर्पित करें।

 

Exit mobile version