Saturday, June 6, 2020

Chaitra Navratri 2020: नवरात्रों में बन रहा है चार बड़े ग्रहों का विशेष संयोग, जो कोरोना का करेगा संहार

Chaitra Navratri 2020: 30 मार्च से शुरू होगी कोरोना वायरस के खात्मे की उलटी गिनती। गुरु के नीच राशि में जाने से कारोना की विदाई संभव। लोग सतर्क रहे और सरकार की बात मानी तो इसमें कोई दोराय नहीं कि एक माह में कोरोना का नामो निशान मिट जायेगा। लॉकडाउन का पालन करें। दरअसल आस्था अपनी जगह है और सतर्कता अपनी जगह। लिहाजा घर में रहें और स्वस्थ्य रहें।

Chaitra Navratri 2020: 22 मार्च को मंगल मकर राशि में आ चुके हैं। शनि पहले ही मकर में हेैं और 30 मार्च को गुरु भी इसी राशि में जुड़ रहे हैं। नवरात्र के दौेरान ही 28 मार्च को शुक्र भी मेष से बृष राशि में आ गए हैं जो 1 अगस्त को बृष में जाएंगे । सूर्य भी 21 अप्रैल से अपनी उच्च राशि मेष में आकर आग बरसाएगा।

यही चौकड़ी कारोना का संहार करेगी

मंगल एक बलवान ग्रह है। जिन लोगों की कुंडली में कारक स्थिति में उनके लिए यह फायदेमंद है, वहीं जिनकी राशि में मंगल नकारात्मक स्थान पर बैठें हैं उनके लिए थोड़ा परेशान करने वाला हो सकता है। मंगल ग्रह 22 मार्च से राशि बदलने के बाद 4 मई तक मकर राशि में रहेंगे, इसके बाद वो राशि बदलेंगे। 4 मई के बाद मंगल ग्रह मकर राशि से मेष राशि में जाएंगे। फिलहाल 22 मार्च को हुए राशि परिवर्तन से सिर्फ 3 राशि के लोगों के लिए अच्छी स्थिति बनती दिख रही है। इन राशियों में सिंह, वृश्चिक और मीन राशि शामिल हैं।

गुरु (बृहस्पति) 30 मार्च 2020 को अपनी स्वराशि धनु से शनि ग्रह की राशि मकर में प्रवेश करेंगे। लेकिन पुनः 30 जून को वक्री होकर धनु राशि में आ जाएंगे और फिर 20 नवंबर को गुरु वापस मकर राशि में संचरण करेंगे। गुरु को एक शुभ ग्रह माना जाता है। यह ज्ञान, धर्म-अध्यात्म और नैतिक कार्यों का कारक है। राशियों में इसे धनु और मीन राशियों का स्वामित्व प्राप्त है। गुरु ग्रह करीब 12 साल में राशि चक्र पूरा करता है यानी 12 वर्षों में करीब 1-1 वर्ष के सभी राशियों में रुकता है। मकर राशि में गुरु नीच का रहता है। इस राशि में गुरु प्रसन्न नहीं रहता। 14 मई से इसी राशि में गुरु वक्री होगा। 29 जून से वक्री रहकर ही धनु राशि में फिर से जाएगा। धनु में वक्री रहेगा। 13 सितंबर से धनु राशि में मार्गी हो जाएगा और 20 नवंबर को मकर में प्रवेश कर नीच का हो जाएगा।

चैत्र नवरात्रि 25 मार्च दोपहर 2:57 बजे से शुरू हैं। ग्रहों के आधार पर किसी भी ग्रह के स्थान परिवर्तन करने से सभी राशियों पर उसका अच्छा और बुरा प्रभाव देखने को मिलता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

25 स्‍कूलों में एकसाथ पढ़ाकर 1 करोड़ सैलरी लेने वाली फर्जी शिक्षिका अनामिका शुक्ला गिरफ्तार

मानस श्रीवात्‍सव, लखनऊ: यूपी की कासगंज पुलिस ने एक फ़र्ज़ी शिक्षिका को उस समय गिरफ्तार कर लिया, जब वह अपने साथी के साथ बीएसए...

Psy Ops: भारत के खिलाफ चाणक्‍य की यह नीति अपना रहा है चीन

नई दिल्‍ली: लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर एक बार फिर तनाव बढ़ा हुआ है। दोनों ही देशों के...

भारत ने पकड़ी चीन की चोरी! मीटिंग में ले.जन. हरिंदर से आंखे नहीं मिला सका चीनी जनरल

नई दिल्ली। आसमानी आंखों ने एक बार फिर चीन की चोरी पकड़ ली है। भारत ने चीन की चोरी के ये सुबूत कमाण्डर लेवल...

Corona Pademic: भारत पर भारी पड़ सकते हैं आने वाले 2-3 हफ्ते, WHO के विशेषज्ञों ने दी ये गंभीर चेतावनी

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)ने भारत को चेतावनी दी है कि आगे आने वाले दो-तीन हफ्ते भारत के लिए बहुत चिंता जनक हो...