प्रत्यर्पण मामले में पूरी नहीं हुई बहस, विजय माल्या को 2 अप्रैल तक जमानत

देश | Jan. 12, 2018, 4:47 a.m.

नई दिल्ली (12 जनवरी): लंदन की अदालत में गुरुवार को हुई भगोड़ा अपराधी करार दिए गए उद्योगपति विजय माल्या की प्रत्यर्पण संबंधी सुनवाई पूरी नहीं हो सकी। विजय माल्या के प्रत्यर्पण के संबंध में मामला फिर आगे की तारीख के लिए टल गया. सबूतों को स्वीकार किया जाए या नहीं पर माल्या के वकील को पक्ष रखने के लिए और समय दिया गया। माल्या की जमानत को भी 2 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया।

अब अगली सुनवाई में भी माल्या अपना पक्ष रखना जारी रखेंगे. अभी अगली सुनवाई की डेट नहीं मिली है, लेकिन संभावना है कि यह 3 हफ्ते के अंदर अगली तारीख तय हो जाएगी। इस मामले में प्रोसिक्यूशन यानी भारत सरकार की ओर से क्राउन प्रोसिक्यूशन सर्विस (CPS) का पक्ष रखना बाकी है।

गुरुवार को सुनवाई के दौरान माल्या के वकील ने सारे सबूतों को खारिज करवाने की कोशिश की. सुनवाई के दौरान माल्या के वकील ने बचाव में कहा कि ब्रिटेन के कानून के मुताबिक भारत के कोई भी सबूत स्वीकार करने लायक नहीं है। भारत की ओर से अभी इस मामले में अपना पक्ष रखा जाना बाकी है।

Related news

Don’t miss out

News