Download app
We are social

NDA के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार वैंकेया कल करेंगे नामांकन, विपक्ष के गोपालकृष्ण गांधी से है मुकाबला

नई दिल्ली (17 जुलाई):  भारतीय जनता पार्टी ने दक्षिण भारत के बड़े नेता और केंद्रीय मंत्री एम. वैंकेया नायडू को एनडीए के उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित है। वैंकेया नायडू मोदी सरकार में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री और शहरी विकास मंत्री हैं। भारतीय जनता पार्टी ने संसदीय बोर्ड की बैठक में यह फैसला लिया। वैंकेया नायडू कल(मंगलवार) सुबह 11 बजे नामांकन दाखिल करेंगे। इससे पहले वे शहरी विकास मंत्री और सूचना प्रसारण मंत्री के पद से इस्तीफा देंगे।

वेंकैया नायडू के नामांकन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहेंगे। चार नामांकन पत्रों का सेट पहले से ही तैयार कर लिया गया है। एक नामांकन पत्र पर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में 35 सांसदों के हस्ताक्षर पहले से ही पार्टी ने करवा लिए हैं। दूसरे नामांकन पत्र के सेट पर अरुण जेटली के नेतृत्व में पार्टी ने 35 लोगों के हस्ताक्षर करवाए हैं। हालांकि उपराष्ट्रपति के लिए प्रस्तावकों और समर्थकों की संख्या कुल बीस होनी चाहिए लेकिन कहीं कोई कमी ना रह जाए इसलिए पार्टी ने 35-35 लोगों से हस्ताक्षर करवाए हैं। कल दो सेट जमा करवाए जाएंगे अगर जरूरत पड़ी तो आगे भी दो सेट और जमा किए जा सकते हैं।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई
उपराष्ट्रपति उम्मीदवार के एलान होने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर वेंकैया नायडू को बधाई दी है। प्रधानमंत्री ने लिखा, ''मैं वेंकैया नायडू जी को सालों से जानता हूं। मैंने हमेशा उनकी मेहनत और अटलता की तारीफ की है। वे उपराष्ट्रपति कार्यालय के लिए सबसे उपयुक्त उम्मीदवार हैं। राज्यसभा के चेयरमैन के तौर पर सालों लंबा संसदीय अनुभव उनकी मदद करेगा।”

उपराष्ट्रपति पद के लिये विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी भी मंगलवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में नामांकन पत्र दाखिल करेंगे। मंगलवार उपराष्ट्रपति चुनाव के लिये नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख है। 

बता दें गोपाल कृष्ण गांधी महात्मा गांधी के पोते हैं।

Related news

Don’t miss out