उत्तर प्रदेश के चुनाव नतीजों पर दांव पर लगे हैं 50 हजार करोड़ !

बिजनेस | March 10, 2017, 11:04 p.m.

नई दिल्ली (11 मार्च): पांच राज्यों के चुनावी नतीजों के बीच पांचों राज्यों में सट्टा बाजार को लेकर हर कोई कयास लगा रहा है। इन कयासों के बीच सट्टा बाजार में भी माहौल गर्म है।

ये नेटवर्क कितना बड़ा है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया कि ये खेल इंटरनेशनल स्तर तक फैला है। और अकेले उत्तर प्रदेश चुनाव नतीजों को लेकर सट्टेबाजों के 50 हजार करोड़ रुपये दांव पर लगे हुए हैं। चुनाव में सट्टेबाज हर पार्टी के लिए दो नंबर देते हैं जो सट्टा बाजार के अनुमान के मुताबिक होता है। इस बार  यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 180-185 नंबर दिया गया है। 


 180 का मतलब है 'नहीं' और 185 का मतलब है 'हां'। अगर कोई शख्स 180 पर 10 हजार रुपये लगाता है तो बीजेपी को 180 से कम सीटें आने पर उसे दोगुना यानी 20 हजार रुपये मिलेंगे। लेकिन अगर सीटें 180 या इससे ज्यादा आईं तो उसके पैसे जब्त हो जायेंगे। इसी तरह अगर कोई शख्स 185 पर दांव लगाता है तो 185 या उससे ज्यादा सीटें मिलने पर उसे दोगुना पैसे मिलते हैं लेकिन उससे कम रहने पर पैसा डूब जाता है। इसी तरह सपा और कांग्रेस के गठबंधन पर सट्टाबाजार में 125-130  लगाया गया है। ऐसे ही सपा पर 70-75 अनुमान लगाया गया है।


बताया जाता है कि इस बार भी सट्टेबाजों का किंग संभवतः दुबई में बैठा है। उसने भारत में अपने गुर्गे (बुकी) तैनात कर रखे हैं। इन गुर्गों ने शहरों को अलग-अलग पंटरों (छोटे बुकियों) में बांट रखा है। ये पंटर इन पंटरों के पास आम आदमी दांव लगाते हैं। इस तरह के सट्टे की खास बात यह होती है कि पूरा धंधा अवैध है लेकिन दांव लगाने वाले से लेकर बुकी तक सब ईमानदारी से काम करते हैं। हारने वाला फोन पर लगाये पैसे बुकी तक पहुंचाता है तो बुकी भी नंबर लग जाने पर दांव जीतने वाले को रकम उसके घर या एकाउंट में पहुंचा देता है।

Related news

Don’t miss out

News