Download app
We are social

अजय सिंह से कैसे बने योगी आदित्यनाथ, जानिए यूपी के नए सीएम को

नई दिल्ली(19 मार्च): गोरखपुर का एक योगी... यूपी में सत्ता के सिंहासन तक जा पहुंचा। बीजेपी आलाकमान ने योगी आदित्यनाथ को सीएम के लिए सबसे योग्य माना। और सारी अटकलों को खत्म करते हुए योगी आदित्यनाथ के नाम का एलान कर दिया। योगी आदित्यनाथ उत्तरप्रदेश के नए सीएम होंगे। जिसके बाद समर्थक कहने लगे... देश में मोदी यूपी में योगी...।


- योगी आदित्यनाथ... बीजेपी के कद्दावर नेता... कट्टर हिंदुत्व वाली शख्सियत... और जुबान के जरा तीखे... ये नाम.. ये पहचान... ना सिर्फ गोरखपुर की गली-गली में आम है... बल्कि यूपी की सियासत में भी योगी आदित्यनाथ एक फायर ब्रांड नेता हैं।


-विवादित बयानों के बावजूद भी योगी लोगों के दिलों में जगह बनाने में कामयाब रहे हैं। यही वजह है योगी आदित्यनाथ लगातार पांच बार गोरखपुर से सांसद बन चुके हैं।


-योगी आदित्यनाथ 1998 में पहली बार सांसद बने


-महज 26 साल की उम्र में योगी संसद पहुंचे


-12 वीं लोकसभा में सबसे कम उम्र के सांसद थे योगी


-1998 के बाद से लगातार योगी गोरखपुर से जीतते रहे


-योगी 1999, 2004,2009,2014 में सांसद बने


- लगातार जीत से साफ होता है कि योगी ने जब से सियासत की शुरु की तबसे उनका कद लगातार बढ़ता गया... ना सिर्फ गोरखपुर पर उनका कब्जा रहा... बल्कि कट्टर हिंदुत्ववादी छवि के सहारे वो बीजेपी के लोकप्रिय नेताओं की जमात में भी शुमार हो गए।


- योगी आदित्यनाथ अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं... लेकिन जब वो अपने संसदीय क्षेत्र में होते हैं तो कई रूप में नज़र आते हैं।


- जब वो मंदिर में होते हैं.. तो मंहत होते हैं..


- संसदीय क्षेत्र में होते हैं तो जनता का नेता बन जाते हैं..


- गौशाला में होते हैं गऊ माता के प्यारे बन जाते हैं..


- और जब दरबार लगाते हैं तो कष्ट निवारक बन जाते हैं..


- योगी गोरखनाथ मंदिर में ही रहते हैं... सुबह-सवेरे वो मंदिर दर्शन के बाद जनता दरबार लगाते हैं...  इस दरबार के लिए दावा किया जाता है कि इसमें सबकी सुनी जाती है.. और फैसला ऑन द स्पॉट किया जाता है... योगी की छवि कट्टर हिंदुत्व की हो... लेकिन उनके दरबार में दूसरे मजहब के लोग भी जुटते हैं।


- योगी का पूर सफर जानने के लिए देखिए यह वीडियो



Related news