मंत्रियों के लाल बत्ती पर रोक लगाने का फैसला गलत: उमा भारती

देश | March 20, 2017, 6:22 p.m.

नई दिल्ली ( 20 मार्च ): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद सोमवार को योगी आदित्यनाथ ने वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की। उसके बाद दोपहर में मुख्यमंत्री ने सभी विभागों के सचिवों के साथ बैठक की। इस बैठक के बाद घोषणा की गई कि राज्य मंत्री लाल बत्ती का उपयोग नहीं करेंगे।


लेकिन भाजपा की फायर ब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने इस फैसले को गलत करार दिया। उमा भारती ने कहा कि यह गलत फैसला है। उन्होंने कहा कहा कि अगर कोई मंत्री अपने ड्यूटी पर जा रहा है तो लाल बत्ती भी होनी चाहिए और ट्रैफिक भी रोका जाना चाहिए। अगर इस वजह से हवाई जहाज भी 5-7 मिनट लेट हो तो कोई हर्ज नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर मंत्रियों की गाडि़यों से लाल बत्ती उतर जाएही तो बहुत तरह की समस्यायें आएंगी और दुर्घटनाओं में वृद्धि होगी।


मंत्री ने ऐसा करने की वजह भी गिनाई। उन्होंने कहा कि अगर मंत्री के देरी से पहुंचने की वजह से कोई बैठक टली या किसी प्रोजेक्ट को समय रहते मंजूरी नहीं मिली तो करोड़ों का नुकसान हो सकता है।


साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर कोई मंत्री अपने किसी निजी काम में जा रहा हो या किसी शादी में भाग लेने जा रहा हो तो उस समय उसे ये सुविधाएं नहीं मिलनी चाहिए।


इसी दौरान केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि इन्होंने ट्रेंड जो सेट किया है वो गलत है।

Related news

Don’t miss out

News