निदाहास ट्रॉफी: फाइनल मैच में बने आंकड़ों पर एक नज़र

खेल | March 19, 2018, 3:25 p.m.

नई दिल्ली (19 मार्च): निदाहास ट्रोफी के बेहद रोमांचक फाइनल मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को 4 विकेट से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। निदहास ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में दिनेश कार्तिक ने शानदार पारी खेली। 19वें ओवर में बल्लेबाजी करने उतरे कार्तिक ने मात्र 8 गेंदे खेलीं और 3 छक्कों, 2 चौकों की मदद से 29 रन बनाकर टीम इंडिया को जीत दिलाई। दिनेश कार्तिक ने असंभव काम को संभव कर दिखाया। अंतिम गेंद पर मिडविकेट के ऊपर से विजयी छक्का लगाकर कार्तिक ने भारत के करोड़ों खेल प्रेमियों का दिल जीत लिया। 

फाइनल मैच में बने आंकड़ों पर एक नज़र

-दो से ज्यादा देशों वाली टी20 सीरीज पर भारतीय टीम का तीसरी बार (वर्ल्ड टी20 2007, एशिया कप 2016 और निदाहास ट्रॉफी 2018) कब्ज़ा और ऐसा करने वाली विश्व की पहली टीम।

-भारत ने बांग्लादेश को लगातार आठवें टी20 अंतरराष्ट्रीय में हराया। बांग्लादेश के खिलाफ भारत का जीत का रिकॉर्ड 100% है।

-भारत को आखिरी गेंद पर जीत के लिए 5 रनों की जरूरत थी और दिनेश कार्तिक ने छक्का लगाकर टीम को जीत जीत दिलाई। टी20 अंतरराष्ट्रीय में पहली बार ऐसा हुआ जब टीम को 5 रनों की जरूरत थी और बल्लेबाज ने छक्का लगाया। ऐसे कुल मिलाकर टी20 अंतरराष्ट्रीय में कार्तिक सहित 5 बल्लेबाजों ने आखिरी गेंद पर छ्क्का लगाकर टीम को जीत दिलाई है।

-केएल राहुल ने 13 टी20 अंतरराष्ट्रीय पारियों में 500 रन पूरे किये और यह एक विश्व रिकॉर्ड है। उन्होंने आरोन फिंच और बाबर आज़म (15 पारियां) का रिकॉर्ड तोड़ा।

-महमुदुल्लाह ने टी20 अंतरराष्ट्रीय में 1000 रन पूरे किये और ऐसा करने वाले चौथे बंगलादेशी बल्लेबाज बने।

-निदाहास टी20 त्रिकोणीय सीरीज में श्रीलंका के कुसल परेरा ने चार मैचों में सबसे ज्यादा 204 रन बनाये। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा 198 रन (5 मैच) शिखर धवन ने बनाये। मैन ऑफ़ द सीरीज वॉशिंगटन सुंदर और युजवेंद्र चहल ने सबसे ज्यादा 8-8 विकेट लिए।

-भारत ने इस साल अभी तक 8 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेले हैं, जिसमें 6 में जीत और दो में हार का सामना किया है।

-भारत की यह 99 टी20 अंतरराष्ट्रीय में 61वीं जीत है और सबसे ज्यादा जीत के मामले में भारत से आगे अब सिर्फ पाकिस्तान (123 मैच, 74 जीत) है।

Related news

Don’t miss out

News