सुपर ब्लू ब्लड मून: 31 जनवरी को नीला नहीं इस रंग में नजर आएगा चंद्रमा !

देश | Jan. 21, 2018, 7:28 p.m.

नई दिल्ली (21 जनवरी): 31 जनवरी को सुपर ब्लू ब्लड मून है। सुपर मून वाले दिन चंद्रमा सामान्य से 14 फीसदी बड़ा और 30 फीसदी अधिक चमकदार दिखता है। एक ही महीने में जब दूसरी बार चांद उदय होता है तो उसे ब्लू मून कहते हैं। यह प्रत्‍येक ढाई-पौने तीन वर्षों में एक बार आ ही जाता है। इससे पहले 1 जनवरी 2018 को पूर्ण चंद्रमा उदय हुआ था। 

NASA के वैज्ञानिकों के मुताबिक, 31 जनवरी 2018 को चंद्रमा का एक अलग ही रूप दुनिया को देखने को मिलेगा। 31 जनवरी को 6 बजकर 22 मिनट से सात बजकर 38 मिनट के बीच यह नजर आएगा। यह इस साल का यानी 2018 का पहला ग्रहण होगा। वैज्ञानिकों के मुताबिक यह एक सामान्य खगोलीय घटना है। पिछली बार एक ब्लू मून ग्रहण 30 दिसंबर 1982 को पड़ा था, जो भारत के पूर्वी भाग में दिखाई दे रहा था। 1 दिसंबर और 30 दिसंबर1982 दोनों ही पूर्णिमा के दिन थे जिसमें से दूसरी पूर्णिमा को ब्लू मून कहा गया। 


इस घटना की एक विशेषता होगी कि चंद्रग्रहण के बावजूद चांद पूरी तरह काला नजर आने के बजाए तांबे के रंग जैसा दिखाई पड़ेगा। चंद्रग्रहण के दौरान सूर्य और चांद के बीच में धरती के होने से चांद पर प्रकाश नहीं पहुंच पाता। इस दौरान सूर्य के प्रकाश में मौजूद विभिन्न रंग इस पारदर्शी वातावरण में बिखर जाते हैं, जबकि लाल रंग पूरी तरह बिखर पाने में समर्थ नहीं होता और चांद तक पहुंच जाता है। ब्लू मून के दौरान इसी लाल रंग के कारण चांद का रंग तांबे जैसा यानी नारंगी नजर आता है।

Related news

Don’t miss out

News