बर्गर से ज्यादा हेल्दी है समोसा, जानें कैसे

देश | Nov. 29, 2017, 1:29 p.m.

नई दिल्ली ( 28 नवंबर ): अगर आप भी अपनी सेहत खराब होने के डर से समोसा नहीं खाते हैं तो अब इन सब बातों को अपने दिमाग से बाहर कर दीजिए। बता दें कि भारतीयों की मनपसंद स्नैक समोसे ने बर्गर के विरुद्ध चल रही सेहत की लड़ाई जीत ली है। एक प्रमुख संस्थान ने रिसर्च में पाया है कि समोसा विदेशी स्नैक बर्गर की तुलना में अधिक हेल्दी फूड है।


अगर आप किसी रेस्तरां में समोसे को अनहेल्दी फूड घोषित कर स्नैक्स में बर्गर का चयन करते हैं तो यह गलत है। दरअसल, सेंटर फॉर साइंस एंड इन्वायरमेंट(सीएसई) नाम के रिसर्च सेंटर ने हाल ही में समोसे और बर्गर को लेकर एक रिसर्च किया है, जिसमें पाया है कि समोसा का सेवन बर्गर की तुलना में अधिक स्‍वास्थवर्धक है।


रिसर्च में देखा गया कि समोसा बनाने की विधि में ताजे और केमिकल मुक्त जैसे, शुद्ध गेहूं का आटा, उबला आलू, मटर, नमक, मिर्च, मसाला और सब्जी का तेल या घी आदि चीजों का इस्तेमाल किया जाता है, जो सेहत के लिए कभी नुकसानदायक नहीं हो सकती। इसके अलावा बर्गर बनाने में शुद्ध गेहूं का आटा, चीनी, गेहूं का लस, एडिबल भेजीटेबल तेल, यीस्‍ट, नमक, सोया आटा, तिल का बीज, सब्जियां, मेयोनेज, पनीर या आलू पैटी का इस्‍तेमाल किया जाता है, जो शरीर को कभी बड़े स्‍तर पर भी नुकसान पहंचा सकती हैं। 

यह भारतीय स्नैक भी सुरक्षित 
समोसे के अलावा स्नैक्स के तौर पर लिए जाने वाले भारतीय व्यंजन पोहा को भी रिसर्च सेंटर ने सरक्षित प्रमाणित किया है। सेंटर के मुताबिक पोहा बनाने के लिए नेचुरल और ताजे चीजों का उपयोग किया जाता है। इसलिए पोहा का सेवन नूडल्स से अधिक शारीर के लिए लाभदायक है।

Related news

Don’t miss out

News