रूस और ब्रिटेन में बढ़ी तकरार, मॉस्को ने 23 ब्रिटिश राजनयिकों को निकाला

दुनिया | March 18, 2018, 12:41 a.m.

नई दिल्ली ( 18 मार्च ): पूर्व रूसी जासूस को जहर देने के मामले को लेकर रूस और ब्रिटेन के बीच संकट और गहरा गया है। रूस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए ब्रिटेन के 23 राजनयिकों को देश से निष्कासित कर दिया है। रूस ने कहा है कि वह अपने देश में ब्रिटिश काउंसिल की गतिविधियों को भी बंद कर रहा है। रूस ने इन राजनयिकों को देश छोड़ने के लिए एक हफ्ते का वक्त दिया है। 

रूस ने यह घोषणा रूस के पूर्व एजेंट और उनकी बेटी को जहर देने को लेकर लंदन द्वारा की गई 'भड़काऊ' कार्रवाई पर की है। विदेश मंत्रालय ने ब्रिटेन के राजदूत लाउरी ब्रिस्टो को तलब करने के बाद बयान जारी कर कहा, 'ब्रिटेन के दूतावास में 23 राजनयिकों को अवांछित व्यक्ति करार दिया है और उन्हें एक हफ्ते के अंदर निष्कासित किया जाएगा।'

रूस ने कहा कि ब्रिटेन की 'भड़काऊ कार्रवाई' और 'चार मार्च को सैलिसबरी की घटना पर आधारहीन आरोपों' को लेकर यह कदम उठाया गया है। उनका इशारा सर्गेई और यूलिया स्क्रीपल को जहर देने की घटना की तरफ था। रूस ने कहा कि वह ब्रिटिश काउंसिल की देश भर में गतिविधियों को रोक रहा है। यह सांस्कृतिक संबंधों और शिक्षा का अवसर उपलब्ध कराने वाला ब्रिटेन का अंतरराष्ट्रीय संगठन है। 

विदेश मंत्रालय ने कहा, 'रूस में ब्रिटिश काउंसिल के अनियमित स्थिति के कारण इसकी गतिविधियों को रोका जा रहा है।' मंत्रालय ने ब्रिटेन को यह भी चेताया कि 'अगर आगे रूस के प्रति गैर दोस्ताना कार्रवाई की गई तो रूसी पक्ष को अधिकार है कि वह जवाबी कदम उठा सकता है।' 

Related news

Don’t miss out

News