कांग्रेस मुख्यालय में राहुल गांधी लगाएंगे जनता दरबार, आम लोगों से करेंगे मुलाकात

देश | Jan. 23, 2018, 2:41 p.m.

रमन कुमार, नई दिल्ली (23 जनवरी): दशकों बाद कांग्रेस में एक बार फिर से जनता दरबार लगेगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने तेवरों से साफ कर दिया है कि वह कार्यशैली के मामले में खुद को अपनी दादी इंदिरा गांधी के नजदीक पाते हैं। 

2004 में यूपीए सरकार बनने के बाद सुरक्षा और ताम झाम के चलते कांग्रेस मुख्यालय में सोनिया गांधी का कार्यक्रम बन्द हो गया और ’10 जनपथ’ में ही दरबार लगने लगा। ऐसे में अब राहुल दोबारा कांग्रेस मुख्यालय में पुरानी परपंरा  को जल्दी शुरू करने वाले हैं। राहुल ने इस प्रस्ताव को सहमति दे दी है कि, जब वो दिल्ली में रहेंगे तो मंगलवार और शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय 24 अकबर रोड आकर दफ्तर में ही समय मांगने वाले नेताओं से मिला करेंगे साथ ही शनिवार को राहुल पार्टी मुख्यालय के लॉन में दूर-दराज से बिना समय लिए आए कार्यकर्ताओं और आम लोगों से मुलाकात किया करेंगे। 

साल 2017 के खत्म होने से पहले राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बन गए। 13 साल में करीब 10 साल उनकी पार्टी की केंद्र में सरकार रही। 2014 के लोकसभा चुनाव में बुरी तरह नाकामयाब होने के बाद कांग्रेस के अंदर राहुल की अगुवाई पर सवाल उठने लगे। लेकिन पार्टी अध्यक्ष बनने से ठीक पहले राहुल ने जिस तरह के सियासी तेवर दिखाए, वैसे पहले कभी देखने को नहीं मिला था।

गुजरात विधानसभा चुनाव में राहुल ने पार्टी के प्रचार को जिस तरीके से अगुवाई की उसे देखकर राजनीतिक समीक्षक भी कहने लगे- ‘बदले बदले से नजर आ रहे हैं राहुल। गुजरात चुनाव में कांग्रेस ने सहयोगियों के साथ 80 सीटों पर जीत हासिल की, उसे देखते हुए विरोधियों को भी राहुल को गंभीरता से लेने पर मजबूर होना पड़ा।

Related news

Don’t miss out

News