इन अधिकारियों से भी कम वेतन पाते हैं राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति

देश | Nov. 19, 2017, 4:18 p.m.

नई दिल्ली (19 नवंबर): क्या आप जानते हैं कि देश के सबसे सर्वोच्च पद पर बैठने वाले राष्ट्रपति को कितना वेतन मिलता हैं? शायद आप सोचते होंगे की राष्ट्रपति देश के सर्वोच्च पद पर होने के कारण सबसे ज्यादा वेतन पाते होंगे, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं हैं। 

देश के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को  देश के प्रमुख नौकरशाहों और तीनों सेनाओं के प्रमुखों के मुकाबले कम वेतन मिलता है। आपको बता दें कि करीब दो साल पहले 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के लागू होने के बाद आई विषमताओं को दूर करने के लिए कानून में अब तक संशोधन नहीं हो पाया है।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और राज्यपालों के वेतन बढ़ाने का एक प्रस्ताव तैयार कर करीब एक साल पहले मंजूरी के लिए कैबिनेट सचिवालय को भेजा था। अधिकारी ने बताया कि इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। 

वर्तमान में राष्ट्रपति को प्रतिमाह डेढ़ लाख रुपये, उपराष्ट्रपति को 1.25 लाख रुपये और राज्यों के राज्यपाल को 1.10 लाख रुपये वेतन मिलता है। 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के एक जनवरी 2016 के लागू होने के बाद देश के सर्वोच्च नौकरशाह कैबिनेट सचिव का वेतन 2.5 लाख रुपये प्रतिमाह है जबकि केंद्र सरकार के सचिवों का वेतन प्रतिमाह 2.25 लाख रुपये है। 

Related news

Don’t miss out

News