आतंक के खिलाफ पाकिस्तान दोराहे पर

दुनिया | May 18, 2017, 10:32 p.m.

नई दिल्ली (19 मई): पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में दोराहे पर खड़ा है और उसे फैसला करना होगा कि क्या वह युवा आबादी के फायदों को उठाना चाहता है या फिर आतंकवाद की मार झेलना चाहता है।

चरमपंथ को नकारने में युवाओं की भूमिका पर विषय पर व्याख्यान में जनरल बाजवा ने कहा कि सेना आतंकवादियों को पराजित कर देगी, लेकिन समाज से चरमपंथ का सफाया करने में उसे देश के सहयोग की जरूरत है।

उन्होंने कहा, 'कृपया याद रखिए कि सेना आतंकवादियों से लड़ती है और चरमपंथ एवं आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई कानून प्रवर्तन एजेंसियों व समाज के द्वारा लड़ी जाती है'। बाजवा ने कहा कि पाकिस्तान एक युवा देश है, जहां 50 फीसदी से अधिक आबादी 25 साल से कम उम्र की है।

Related news

Don’t miss out

News