पाक की ना'पाक' हरकत, सिख श्रद्धालुओं से भारतीय राजनियकों को नहीं दिया मिलने

देश | April 16, 2018, 1:18 a.m.

नई दिल्ली (16 अप्रैल): पाकिस्तान सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। उसने पाकिस्तान गए भारतीय सिख तीर्थयात्रियों को वहां तैनात भारतीय राजनियकों से मिलने तक नहीं दिया और जब भारत ने पाकिस्तान की इस हरकत की निंदा की तो उसने उल्टे ही भारत पर आरोप मढ़ दिया। पाकिस्तान का कहना है कि गुरुद्वारा के कार्यक्रम में भारत के हाई कमिश्नर का कार्यक्रम दोनों पक्षों की सहमति के बाद कैंसल हुआ था।

पाक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से भारत के हाई कमिश्नर को 14 अप्रैल 2018 को होने वाले बैसाखी और खालसा जन्मदिन के कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था, जो गुरुद्वारा पंजा साहिब में होना था। लेकिन भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों से आए सिखों ने बाबा गुरुनानक देवजी पर बनी किसी फिल्म का विरोध करते हुए प्रदर्शन किया। इसे देखते हुए पाकिस्तान प्रशासन ने भारत के हाई कमिश्नर को फोन कर दौरा कैंसल करने को कहा। पाकिस्तान का कहना है कि उनकी तरफ से कार्यक्रम को कैंसल करने के पीछे किसी अप्रिय घटना से बचना था और यह कैंसलेशन दोनों देशों की सहमति से हुआ था। पिछले हफ्ते 1,800 भारतीय तीर्थयात्री रावलपिंडी के गुरुद्वारा पंजा साहब में बैसाखी मनाने गए हुए हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस पर सख्त आपत्ति जताई थी।

Related news

Don’t miss out

News