अमेरिका ने 72 साल पहले किया था दुनिया का पहला परमाणु परीक्षण, फिर जापान में मची तबाही

दुनिया | July 16, 2017, 12:56 p.m.


नई दिल्ली(16 जुलाई): अमेरिका ने आज ही के दिन 72 साल दुनिया का पहला परमाणु परीक्षण किया था। जे. रॉबर्ट आइजनहॉवर के नेतृत्व में 1939 से 1945 के बीच वैज्ञानिकों की एक टीम ने यह कार्य किया और 16 जुलाई 1945 को पहला परमाणु परीक्षण कर दुनिया की दशा और दिशा बदल दी।


- परमाणु परीक्षणों के आधार पर अनुमानित अमेरिका के पास 7,650 परमाणु बम हो सकते हैं। बता दें अमेरिका ने अंतिम परीक्षण 1992 में किया था। अमेरिका ने कुल 1054 बार परीक्षण किया है। परमाणु परीक्षण के 20 दिन बाद ही अमेरिका ने जापान के हिरोशिमा पर सबसे बड़ा हमला किया। 6 अगस्त 1945 को ‘लिटिल ब्वॉय’ नामक परमाणु बम हिरोशिमा पर गिराया गया था। यह घटना दूसरे विश्वयुद्ध के अंतिम चरणों में से एक है।


-  अमेरिकी बॉम्बर प्लेन बी-29 ने जमीन से तकरीबन 31000 फीट की ऊंचाई से परमाणु बम गिरा दिया था।


- जापान के हिरोशिमा शहर के पीस पार्क में एक मशाल हमेशा जलती रहती है। जब तक दुनिया में व्यापक विनाश का एक भी हथियार है, यह मशाल जलती रहेगी।


- इस हमले में लगभग 1.4 लाख लोग मारे गए थे। इनमें वे लोग भी शामिल हैं, जो बम हमले से तो बच गए थे लेकिन भारी रेडिएशन की चपेट में आने के कारण बाद में मर गए थे। पत्तन शहर नागासाकी पर भी 9 अगस्त को परमाणु बम से हमला बोला गया था। इसमें 70 हजार लोग मारे गए थे।


Related news

Don’t miss out

News