अब नहर से नहीं पानी की पाइप से होगी खेतों की सिंचाई



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 14 जून ): केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी ने जल प्रबंधन को लेकर नीति आयोग द्वारा तैयार की गई वाटर मैनेजमेंट इंडेक्स रिपोर्ट को जारी किया है। रिपोर्ट के मुताबिक वाटर रिसोर्स मैनेजमेंट इंडेक्स में सबसे बेहतर प्रदर्शन गुजरात राज्य ने किया है, तो वहीं सबसे खराब प्रदर्शन झारखंड राज्य का है।

नितिन गडकरी ने कहा कि जिन राज्यों ने जल से संबंधित मामलों पर बेहतर काम किया है वहां कृषि विकास अच्छा हुआ है। उन्होंने कहा कि झारखंड, यूपी, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, एमपी, छत्तीसगढ़ और गुजरात जैसे राज्यों में जल संबंधी समस्याएं हैं। साथ केंद्रीय मंत्री मे कहा कि देश मे पानी की कमी नहीं है, बल्कि पानी के नियोजन की कमी है।

उन्होंने कहा कि समुद्र में जाने वाले पानी का इस्तेमाल करने पर काम किया जाना चाहिए। गडकरी ने कहा कि खेतों में सिंचाई के लिए अब हम कैनाल नहीं बल्कि वाटर पाइप को लेकर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि 18 फीसदी जनसख्या समुद्र किनारे बसती है।

पंजाब और हरियाणा थोड़े पानी के लिए आपस मे लड़ते हैं, लेकिन नदियों का पानी बड़े मात्रा में पाकिस्तान जा रहा है। उस ओर कोई ध्यान नहीं देता।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा देश मे पानी की स्थिति अच्छी नहीं है। बेहतर मानसून की वजह से देश कभी महसूस नहीं किया कि उसको जल संकट से सामना करना पड़ सकता है, लेकिन आज हम इस संकट से जूझ रहे हैं।